कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का पीएम नरेंद्र मोदी को नीच किस्म का आदमी कहना तूल पकड़ता जा रहा है. अब खुद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इसकी निंदा करते हुए अय्यर से माफी मांगने को कहा है. राहुल ने ट्विटर पर लिखा कि कांग्रेस किसी को ऐसी भाषा की इजाजत नहीं देती.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया- बीजेपी और पीएम लगातार कांग्रेस पार्टी पर अभद्र तरीके से हमला करते रहे हैं. कांग्रेस की एक अलग संस्कृति और पहचान है. पीएम मोदी के बारे में मणिशंकर अय्यर की इस तरह की भाषा का मैं कतई समर्थन नहीं करता. कांग्रेस और मैं दोनों उम्मीद करते हैं कि वह अपने शब्दों के लिए माफी मांगेंगे.

मोदी का पलटवार

भारतीय जनता पार्टी ने इसे लेकर कांग्रेस को निशाने पर ले लिया है. खुद पीएम मोदी ने आज सूरत रैली में अय्यर और कांग्रेस को निशाने पर लिया. उन्होंने मणिशंकर को मुगल मानसिकता वाला बताया. उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता वोटों से इसका बदला लेगी.

पीएम मोदी ने सूरत की रैली में आज इसे लेकर मणिशंकर और कांग्रेस पर करारा हमला बोला. उन्होंने मणिशंकर के बयान को गुजरात का अपमान बताया. रैली में मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने मुझे नीच कहकर पूरे गुजरात का अपमान किया है. ऊंच नीच का संस्कार देश की संस्कार नहीं है. अय्यर का बयान उनकी मुगलों वाली मानसिकता दिखाता है. क्या मैंने कोई नीच काम किया है?  कांग्रेस के महारथियों हार सामने देख मानसिक संतुलन खो बैठे हो.

मोदी ने कहा, मैं भले ही निम्न जाति का लेकिन ऊंचे काम करता हूं. अब वोट बताएगा कि आपने मोदी के साथ क्या किया है. सूरत के लोगों 9 और 14 दिसंबर को वोट देकर नीच शब्द का जवाब दें. इन लोगों ने मुझे मौत का सौदागर भी कहा था. मुझे जेल भेजे जाने की भी साजिश रची गई थी.