नई दिल्ली. देश के कई शहरों में कैश नहीं होने की सूचना पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, मोदी जी ने बैंकिंग सिस्टम को नष्ट कर दिया है. नीरव मोदी 30 हजार करोड़ रुपये लेकर फरार हो गया है और प्रधानमंत्री ने एक शब्द नहीं बोला. हमारे पॉकेट से 500 और 1000 रुपये के नोट छीनकर हमें लाइन में खड़े होने को मजबूर कर दिया और पैसों को नीरव मोदी के पॉकेट में डाल दिया.

राहुल ने कहा, पीएम संसद में खड़े होने से डरते हैं. संसद भवन में हमें 15 मिनट का भाषण मिल जाए, पीएम खड़े नहीं हो पाएंगे. चाहें वह रॉफेल का मामला हो या नीरव मोदी का मामला, पीएम खड़े नहीं हो पाएंगे.

बता दें कि देश के कई शहरों में कैश नहीं होने की सूचना है. बिहार की राजधानी पटना में पिछले तीन दिन से एटीएम में कैश नहीं मिल रहा है. लोगों का कहना है कि कैश नहीं मिलने से उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. नोटबंदी के बाद पहली बार इस तरह की समस्या देखने को मिल रही है. वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली का कहना है कि कुछ इलाकों में नोटों की मांग अप्रत्याशित रूप से बढ़ गई है. सरकार ने करेंसी के हालात की समीक्षा की है. देश में जरूरत से ज्यादा नोट सर्कुलेशन में हैं और बैंकों में भी पर्याप्त नोट उपलब्ध हैं.

वित्त राज्य मंत्री एसपी शुक्ला ने कहा कि वर्तमान में हमारे पास 125000 करोड़ कैश है. कुछ राज्यों के पास कम कैश है, वहीं कुछ के पास ज्यादा कैश है. केंद्र सरकार ने कमिटी गठित की है. भारतीय रिजर्व बैंक ने एक राज्य से दूसरे राज्यों में पैसे के ट्रांसफर के लिए कमिटी का गठन किया है. यह काम तीन दिन में हो जाएगा.