कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का ऑफिशियल टि्वटर अकाउंट बुधवार शाम को हैक कर लिया गया। अकाउंट को हैक करने के बाद उनके हैंडल से उनके और उनके परिवार के बारे में अपशब्द लिखे गए थे। हैक होने के बाद उनके अकाउंट से किए गए ट्वीट्स में लिखा गया था, ‘मेरा परिवार देश को पिछले 60 साल से लूट रहा है। मैं भी आम लोगों को लूटना पसंद करता हूं।’ इसके अलावा उनके और उनके परिवार के लिए कई अपशब्द कहे गए।

इस पूरे मामले में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल उठाते हुए कहा कि ये विपक्ष के नेता कि आवाज़ दबाने कि कोशिश है। सुरजेवाला ने कहा कि जिस प्रकार गाली गलौज कि गई वो ये दर्शाता है कि कोई भी एक विचारधारा से असहमत हो तो उसे ट्रोल किया जाएगा। ये जो डराने कि भाषा है ये देश कि आवाज को दबाने कि कोशिश है।

अब देश के लोगों को सोचना होगा कि क्या उनकी निजता सुरक्षित है? उनके अकाउंट सुरक्षित हैं? सुरजेवाला कहा कि ये सियासी रंजिश है। इसी रंजिश के चलते गांधी कि हत्या हुई। इसी रंजिश के चलते हमारे दो पीएम मारे गए। आरएसएस के दोस्तों ने गांधी-पटेल को कई बार धमकी दी। उन्होंने कहा कि सवाल ये है कि अगर राहुल का अकाउंट हैक होगा, तो सवा सौ करोड़ जनता कि निजता का क्या होगा?
यह भी पढ़ें: 7 दिसंबर तक सामान्य होगी कैश सप्लाई, 500 के नोट ज्यादा छापेगा रिजर्व बैंक

ट्विटर इंडिया को बकायदा शिकायत की गई, जिसके बाद एकाउंट को रीसेट कर दिया गया। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘इस तरह की घटिया चालों से तर्कपूर्ण बातें खत्म नहीं होगी ना ही आम आदमी के मुद्दे उठाने से राहुल गांधी पीछे हटेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी के ट्विटर हैंडल को हैक करने में बिकाऊ ट्रोलों का इस तरह अशोभनीय, अनैतिक और शातिर आचरण विद्यमान फासीवादी संस्कृति की असुरक्षा को दिखाता है।’

भारत में किसी बड़े राजनेता का सोशल मीडिया अकाउंट हैक होने का यह पहला मामला है। हैक करने वाले समूह ने चेतावनी दी है कि आने वाले समय में ‘कांग्रेस के हथकंडों का पूरा खुलासा किया जाएगा।’ यह भी लिखा गया कि यह ‘भ्रष्‍टाचार के युग का अंत है।’