हाजीपुर: बिहार के वैशाली जिले के गोरौल थाना क्षेत्र में बुधवार को दिनदहाड़े एक आरटीआई कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हत्या करने के बाद बाद हमलावर फरार हो गए. इस घटना में एक अन्य व्यक्ति भी गोली लगने से घायल हो गया. फिलहाल हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है. पुलिस के अनुसार, इनायतनगर पंचायत समिति सदस्य सावित्री देवी के पुत्र और आरटीआई कार्यकर्ता जयंत कुमार उर्फ हैप्पी इनायत नगर में ही एक चाय की दुकान के पास खड़े होकर बात कर रहे थे. इसी दौरान कुछ लोगों ने उन पर गोली चला दी.
ये भी पढ़ें: HRD मिनिस्ट्री ने सीबीएसई परीक्षा प्रक्रिया जांच के लिए गठित की समिति

गोली लगने से हैप्पी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि वहीं खड़े उप मुखिया के पति अरविंद सिंह भी गोली लगने से घायल हो गए. घायल अरविंद को इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है. ग्रामीणों का कहना है कि सक्रिय आरटीआई कार्यकर्ता हैप्पी ने कई सफेदपोशों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा था. उन्होंने जिले के कई राजनेताओं और पुलिसवालों के खिलाफ सूचना के अधिकार के माध्यम से बड़ी जानकारी हासिल की थी जिसके कारण वह चर्चा में थे और कई लोग उनके खिलाफ हो गए थे.

ये भी पढ़ें: बिहार के पूर्व मंत्री की मांग, अनुसूचित जाति और जनजातियों के लिए हो हरिजिस्‍तान

महुआ के पुलिस उपाधीक्षक अनंत कुमार ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. हत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल पाया है.