गांधीनगर| गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव से करीब एक महीने पहले पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल की एक कथित सेक्स सीडी सोशल मीडिया में सामने आयी है. इस पर हार्दिक ने कहा कि इसे बीजेपी के इशारे पर छेड़छाड़ से तैयार कर सोशल मीडिया पर वायरल किया गया है और उन्हें बदनाम करने के लिए बीजेपी ‘‘गंदी राजनीति’’ कर रही है. कथित वीडियो में हार्दिक जैसा एक व्यक्ति देखा जा सकता है जो एक अज्ञात महिला के साथ है.

राहुल का मोदी पर निशाना, सीने में जलन, आंखों में तूफ़ान सा क्यों है?

राहुल का मोदी पर निशाना, सीने में जलन, आंखों में तूफ़ान सा क्यों है?

सीडी आने के बाद हार्दिक ने कहा कि मैंने पहले भी कहा था कि इन लोगों का प्लान गंदी राजनीति की ओर चलता जा रहा है. ऐसा होता रहेगा. लड़ाई जारी रहेगी, जिसको जो करना है कर ले. उन्होंने कहा, ‘‘ यह बदली गयी क्लिप है और आने वाले दिनों में खुद को निर्दोष साबित करने के लिए मैं सबूत दूंगा. मुझे बदनाम करके बीजेपी सत्ता में बने रहना चाहती है. बताया जाता है कि यह वीडियो 16 मई 2017 का है जिसे एक होटल में शूट किया गया है. जब यह वीडियो अपराह्न में सामने आया तो हार्दिक पटेल पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के सदस्यों के साथ एक बैठक में थे और वह विपक्षी कांग्रेस द्वारा दिये गये प्रस्ताव पर चर्चा कर रहे थे.

आपको याद दिला दें कि पिछले महीने भी एक होटल का सीसीटीवी फुटेज लीक हुआ था. जिसमे हार्दिक पटेल एक बैग लेकर जाते दिख रहे थे. तब ऐसी खबरे आई थी कि हार्दिक कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मिले थे मगर उन्होंने इन ख़बरों का खंडन कर दिया था. उन्होंने कहा था कि वह होटल में जरुर गए थे मगर उन्होंने वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत से मुलाकात की थी न कि राहुल गांधी नहीं से.