पटना: अपनी पार्टी में दरकिनार कर दिए जाने से नाराज चल रहे पटना साहिब संसदीय क्षेत्र से भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव की तारीफ करते हुए उनकी तुलना एनसीपी प्रमुख शरद पवार से की. शत्रुघ्न ने संवाददाताओं से बातचीत में तेजस्वी की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए कहा कि इतनी कम उम्र होने के बावजूद वे जिस विनम्रता से बातें करते हैं और हर चीज को पूरी दृढ़ता के साथ पेश करते हैं उससे यही लगता है वे योग अभ्यास करते होंगे. हमारे प्रधानमंत्री जी, मुझमें और उनमें एक चीज सामान्य है और वह यह है कि हमलोग योग अभ्यास करते हैं. कुछ दिन पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने तेजस्वी यादव के घर जाकर उनके पूरे परिवार से मुलाकात भी की थी.

यह पूछे जाने पर कि अगले चुनाव में क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के बीच सीधी टक्कर होगी, शत्रुघ्न ने कहा कि तेजस्वी किसको टक्कर देंगे, इस बारे में वह नहीं कह सकते पर उनमें टक्कर देने की पूरी क्षमता है. उन्होंने तेजस्वी में गजब की सूझबूझ और परिपक्वता होने की बात करते हुए कहा कि उनमें एनसीपी महासचिव शरद पवार के सारे गुण नजर आते हैं.

बिहार विधानसभा में औरंगाबाद में हुई सांप्रदायिक हिंसा को लेकर हुई नोकझोंक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश ने तेजस्वी को समझाते हुए कहा था कि राजनीति में उनका लंबा करियर है. शत्रुघ्न ने कहा कि हम भी वही कह रहे हैं कि तेजस्वी का लंबा राजनीतिक करियर है तथा उनका भविष्य उज्ज्वल है. हाल में आयोजित बिहार दिवस के समारोह में प्रदेश की राजग सरकार द्वारा नहीं बुलाए जाने पर नाराजगी जताते हुए शत्रुघ्न ने कहा कि इसके कारणों के बारे में सभी को पता है.

उल्लेखनीय है कि शत्रुघ्न ने करोडों रूपये के चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद प्रमुख लालू से रांची जाकर हाल ही में मुलाकात करने के बाद दो दिनों पूर्व पटना में लालू की पत्नी राबडी देवी से उनके घर जाकर उनसे सहानुभूति व्यक्त की थी. राबडी से अपनी मुलाकात के बारे में शत्रुघ्न ने कहा कि लालू जी के साथ उनकी पारिवारिक मित्रता रही है और उनके परिवार का उन्हें स्नेह हमेशा मिलता रहा है.