तिरुचिरापल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कावेरी मुद्दे पर तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक के खिलाफ बेहद निंदात्मक गीत गाने को लेकर उग्र वामपंथी संगठन से जुड़े एक गायक को आज गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कला एवं साहित्यिक संगठन ‘मक्कल कलाई इलाक्किया कषगम ’ के तिरुचिरापल्ली जिले के पदाधिकारी कामरेड कोवन को गिरफ्तार किया गया और स्थानीय अदालत से जमानत मिलने के बाद उन्हें रिहा कर दिया गया.

भाजपा पदाधिकारी की शिकायत पर गिरफ्तारी

भाजपा के एक पदाधिकारी की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने कोवन को समूहों के बीच शत्रुता को बढ़ावा देने और सार्वजनिक शांति भंग करने के लिये उकसाने समेत आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया. कोवन की गिरफ्तारी के दौरान काफी ड्रामा देखने को मिला. पुलिस जब उन्हें लेकर जा रही थी तो उनके रिश्तेदारों और मित्रों ने एतराज जताया.

जमकर हुआ ड्रामा

उन्होंने गायक को ले जाने आई पुलिस वैन के सामने वाहन खड़े कर दिए. पुलिसकर्मियों को उन्हें हटाने और कोवन को गिरफ्तार करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. कोवन ने कहा, मैंने राम राज्य रथ यात्रा के खिलाफ गीत गाया. मैंने अपने गीत में कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग की. जहां हम कावेरी का पानी मांग रहे हैं , वहीं उन्होंने दंगों की पूर्वगामी रथ यात्रा का आयोजन किया और मुझे गिरफ्तार किया गया है.

कथित तौर पर आपत्तिजनक शब्दों वाला गीत कोवन ने पिछले महीने कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग को लेकर एक कार्यक्रम में गाया था. बता दें कि कावेरी जल विवाद में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद तमिलनाडु में विरोध प्रदर्शन जारी है. तमिलनाडु की मांग है कि इस मामले में केंद्र तुरंत कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड का गठन करे. विरोध प्रदर्शन इतना तेज हो गया है कि आईपीएल मैचों का आयोजन भी चेन्नई से हटाना पड़ा है.