शिमला: शिमला, मनाली और अन्य पहाड़ी इलाकों में 2 दिन तक भारी बर्फबारी के बाद बुधवार को धूप खिली है लेकिन साथ ही हाड़ कंपाने वाली सर्द हवाएं भी चल रही हैं. शिमला में बर्फबारी से न्यूनतम तापमान गिरकर 1.9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जिसके बाद ठिठुरन पैदा करने वाली बर्फीली हवाएं चल रही हैं.

पिछले 2 दिनों में पहाड़ों की रानी शिमला और इसके आसपास के पर्यटक गंतव्यों कुफरी, माशोबरा और नारकंडा में इस मौसम की दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बर्फबारी हुई. राज्य की राजधानी से करीब 250 किलोमीटर दूर खूबसूरत पर्यटक स्थल मनाली में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

किन्नौर जिले के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जबकि डलहौजी में शून्य से 0.6 डिग्री नीचे और धर्मशाला में 6.6 डिग्री दर्ज किया गया.

पर्यटन उद्योग से जुड़े व्यवसायियों के अनुसार, हजारों लोग खासकर युवा जोड़े वैलेंटाइन्स डे का आनंद उठाने के लिए राज्य भर के विभिन्न पर्यटक गंतव्यों पर जुट रहे हैं. बर्फबारी पर्यटकों और खासकर उत्तर भारत के मैदानी इलाकों के लोगों को काफी आकर्षित करती है.

दिल्ली की एक कंपनी में कॉरपोरेट एक्जीक्यूटिव सोनाली नागपाल ने कहा, ‘हम शिमला में कुछ और दिन रुकने की योजना बना रहे हैं क्योंकि इसके आस-पास के पर्यटन स्थलों में अभी भी काफी बर्फ है.’