नई दिल्ली: तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के सांसदों को रविवार को पुलिस ने उस समय हिरासत में ले लिया जब उन्होंने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष श्रेणी दर्जे की मांग करते हुए यहां 7, लोक कल्याण मार्ग स्थित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास के पास प्रदर्शन की कोशिश की. प्रदर्शन का फैसला तब किया गया जब पार्टी सांसदों ने भविष्य के कदम पर फैसला करने के लिए सुबह राज्यसभा सदस्य एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री वाईएस चौधरी के आवास पर बैठक की.

हालांकि दिल्ली पुलिस और सीआरपीएफ ने प्रधानमंत्री के आवास तक जा रहे इन सभी नेताओं को रास्ते में ही हिरासत में ले लिया. सांसद जयदेव गल्ला ने कहा कि प्रधानमंत्री को ही विशेष श्रेणी दर्जे पर फैसला लेना है. उन्हें अपना वादा पूरा करना चाहिए, इसीलिए हम उनके सामने अपनी मांगें उठाना चाहते हैं.

आंध्र प्रदेश को विशेष श्रेणी दर्जा दिए जाने से भाजपा नीत केंद्र सरकार के इनकार के बाद तेलुगू देशम पार्टी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से अपने मंत्रियों को हटा लिया था और राजग से नाता तोड़ लिया था. टीडीपी ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी पेश किया. हालांकि संसद में लगातार गतिरोध के चलते इसे चर्चा के लिए नहीं लिया जा सका.

इस बीच वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने आंध्र प्रदेश को विशेष श्रेणी दर्जा दिए जाने की ही मांग को लेकर यहां तीसरे दिन भी अपनी अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल जारी रखी.