कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस एअरपोर्ट पर बुधवार रात एक विमान की देर से लैंडिंग कराई गई। इंडिगो एयरलाइन का के इस विमान में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सवार थी। वो पटना से वापस कोलकाता आ रही थी। तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और शहरी विकास मंत्री फिरहद हकीम भी सवार थे। उन्होंने आज आरोप लगाया कि ममता बनर्जी नोटबंदी का विरोध कर रही हैं इसलिए उनकी हत्या की साजिश रची गई।

एअरपोर्ट अधिकारियों का कहना है कि बुधवार रात इंडिगो एयरलाइन का विमान पटना से निर्धारित समय से एक घंटे देरी से उड़ान भरी। तकनीकि कारणों की वजह से उसे कोलकाता एयरपोर्ट पर आधे घंटे तक चक्कर लगाना पड़ा। ट्रैफिक होने की वजह से ऐसा किया गया। फिरहद हकीम ने कहा कि विमान के उतरने के लिए एटीसी से ”अनुमति मिलने में देरी” पर कड़ी आपत्ति जताई और आरोप लगाया कि यह मुख्यमंत्री को मारने का एक षड्यंत्र है।  हकीम ने दावा किया कि पायलट ने कोलकाता से 180 किलोमीटर दूर घोषणा की कि विमान पांच मिनट के भीतर उतर जाएगा, विमान अंतत: आधे घंटे से अधिक समय बाद उतरा। यह भी पढ़ेंः पेट्रोल और फ्लाइट टिकट के लिए सिर्फ कल तक ही चलेंगे पुराने नोट

आज संसद के दोनों सदनों में तृणमूल सांसदों ने ममता बनर्जी की सुरक्षा को लेकर हंगामा किया। सांसदों का कहना है कि सीएम ममता बनर्जी को जान से मारने की साजिश रची जा रही है। राज्यसभा में सांसद डेरेक ओब्रायन ने कहा कि ममता बनर्जी के विमान में ईंधन कम था। इसके बावजूद उनके विमान की लैंडिंग देर से करवाई गई। केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने आश्वासन दिया है कि इस तरह की चूक करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और विमान में कम ईंधन की जांच भी की जाएगी. उन्होंने कहा कि डीजीसीए इस मामले की जांच करेगी।