नई दिल्लीः सड़क पर रॉन्ग साइड गाड़ी चलाने वालों को रोकने के लिए लगाया गया ब्रेकर मंगलवार को हटा दिया गया. पुणे के अमनोरा पार्क टाउन की सड़क पर डिवाइडर की जगह ऑटोमैटिक मूवेबल मेटल ब्रेकर लगाए गए थे. ये न सिर्फ स्पीड ब्रेकर का काम कर रहे थे बल्कि रॉन्ग साइड से आने वाली गाड़ियों के टायर को फाड़ देते. ट्रैफिक पुलिस ने अपने नोटिस में इसे खतरनाक बताया. इसके बाद अमनोरा पार्क टाउन में लगे टायर किलर्स को मंगलवार को हटा दिया गया. गलत साइड से ड्राविंग करने वालों पर लगाम कसने के लिए बीते दिनों सड़कों पर टायर किलर्स लगाए गये थे.

ऑटोमैटिक मूवेबल मेटल ब्रेकर लगाने के बाद हादसों में कमी का दावा किया गया था. मूवेबल मेटल ब्रेकर की कीमत करीब 1.50 लाख से ज्यादा बताई जा रही है. पुणे के अलावा इसे बेंगलुरु, चेन्नई और अहमदाबाद में भी लगाने योजना थी.

टायर किलर था क्या
सड़क हादसों को रोकने के लिए इस टायर किलर को लगाया गया था. सही दिशा से आने वाली गाड़ियों के लिए यह स्पीड ब्रेकर का काम कर रहा था वहीं रॉन्ग साइड से आने वालों के लिए टायर किलर का काम कर रहा था. इसमें लंबी और नुकीली कीलें लगाई गई थीं, जो भी रॉन्ग साइड से आने की कोशिश करता उसकी गाड़ी का टायर फट जाता.

पुणे ट्रैफिक पुलिस द्वारा टाउनशिप मैनेजमेंट को भेजे गए नोटिस के बाद पुणे के अमनोरा पार्क टाउन में लगे टायर किलर्स को हटा दिया गया है. ट्रैफिक पुलिस ने अपने नोटिस में इसे जोखिमभरा बताया है. भले ही पुणे के अमनोरा पार्क से इसे हटा दिया गया हो, मगर बेंगलुरु, चेन्नई और अहमदाबाद में इसे लगाने की प्लानिंग हो रही थी. मगर जिस आनन-फानन में इसे हटाया जा रहा है, उससे लगता है कि अन्य शहरों की योजना पर भी इसका असर पड़ सकता है.