संयुक्त राष्ट्रः संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भारत में दो पत्रकारों की हत्या और विश्व स्तर पर मीडियाकर्मियों के खिलाफ बढ़ रही हिंसा को लेकर चिंता जाहिर की है. महासचिव के उप प्रवक्ता फरहान हक ने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम निश्चित तौर पर विश्व में कहीं भी पत्रकारों के खिलाफ हो रहे किसी भी तरह के उत्पीड़न और हिंसा को लेकर चिंतित हैं…और इस मामले में भी हमारा रुख यही है.’’

हक से भारत में दो पत्रकारों की हत्या के मामले पर संयुक्त राष्ट्र की प्रतिक्रिया पूछे जाने पर उन्होंने यह जवाब दिया. मध्य प्रदेश के भींड जिले के एक स्थानीय टेलीविजन चैनल में काम करने वाले 35 वर्षीय संदीप शर्मा की ट्रक से कुचलकर हत्या कर दी गई थी. अवैध रेत खनन पर स्टिंग ऑपरेशन करने के बाद संदीप ने अपनी जान को खतरा बताया था. दूसरी ओर, ‘हिंदी डेली’ के पत्रकार नवीन निश्चल भोजपुर जिले में एक एसयूवी द्वारा कुचले गए दो लोगों में शामिल थे. परिवार ने आरोप लगाया है कि उसकी हत्या के पीछे गांव के पूर्व प्रधान का हाथ है. उसे इस मामले में गिरफ्तार भी किया गया है.

पत्रकारों की मौत को लेकर बिहार सरकार को एनएचआरसी का नोटिस
नई दिल्लीः भोजपुर जिले में एक सड़क दुर्घटना में दो पत्रकारों की मौत को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने बिहार के मुख्य सचिव तथा राज्य पुलिस प्रमुख को नोटिस जारी किए हैं. मीडिया में आई खबरों पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने कहा कि 25 मार्च को हुई घटना पत्रकारों की सुरक्षा पर सवाल उठाती है. बताया जाता है कि आरोपियों की पत्रकारों से कथित तौर पर बहस हुई थी जिसमें उन्होंने पत्रकारों को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी. इसके कुछ समय बाद ही पत्रकारों की बाइक की पूर्व ग्राम प्रधान की एसयूवी से टक्कर हुई और उससे कुचल कर दोनों मारे गए. ‘द इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट’ ( आईएफडब्ल्यूजे) ने घटना की कड़े शब्दों में निंदा की और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है.