रांची. केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा कि एयर इंडिया संप्रग (यूपीए) की सरकार के दौरान भिखारी बन गया था, लेकिन अब यह शानदार महाराजा बनेगा. कर्ज में डूबी एयर इंडिया की76 फीसदी तक हिस्सेदारी बेचने और इसके प्रबंधन को निजी हाथों में देने की योजना सरकार ने पेश की थी.

केंद्रीय नागर विमानन राज्य मंत्री ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘संप्रग के काल में महाराजा भिखारी बन गया। हम एयर इंडिया को शानदार महाराजा बनाएंगे.’ एक सवाल के जवाब में सिन्हा ने कहा कि सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले को 76 फीसदी हिस्सेदारी दी जाएगी.

ममता ने किया था विरोध
राष्ट्रीय कैरियर के रणनीतिक विनिवेश पर सरकार द्वारा ‘प्रीलिमिनेरी इन्फर्मेशन मेमोरेंडम’ जारी किए जानेके कुछ घंटों बाद बनर्जी ने ट्विटर पर, सरकार के फैसले को लेकर आपत्ति जताई. ममता ने कहा, ‘मीडिया में इन खबरों को पढ़ कर बहुत दुख हुआ कि सरकार ने एयर इंडिया को बेचने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. हम इसका कड़ा विरोध करते हैं और चाहते हैं कि यह फैसला तत्काल वापस लिया जाए.’