गुरुग्राम: हरियाणा के गुरुग्राम में एक आदमी अपनी पत्नी के फेसबुक और व्हाट्सएप पर बिजी रहने से इतना परेशान हो गया कि उसने खुद अपनी पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी. 35 साल के हरिओम ने पुलिस के सामने अपने जुर्म को कबूल करते हुए कहा है कि उसकी पत्नी हमेशा फेसबुक और व्हाट्सएप पर बिजी रहती थी, उसे किसी बात का होश नहीं रहता था इसी से परेशान होकर उसने पिछले गुरुवार को गला दबाकर अपनी पत्नी की हत्या कर दी. हत्या के आरोपी पति को शुक्रवार को जिला कोर्ट में पेश किया गया जहां उसे दो दिन के लिए पुलिस रिमांड में भेज दिया गया.

हत्या के आरोपी पति हरिओम की मृतक लक्ष्मी से सन् 2006 में शादी हुई थी और शुरू के कुछ साल तक सब कुछ सही सलामत चलता रहा. हरिओम ने पुलिस को बताया कि पहले सबकुछ ठीक चल रहा था लेकिन पत्नी को स्मार्टफोन दिलाने के बाद से समस्या आने लगी. हरिओम ने बताया कि फेसबुक और व्हाट्सएप पर बिजी रहने की वजह से उसकी पत्नी बच्चों पर और उसपर जरा भी ध्यान नहीं देती थी इसी से परेशान होकर उसने गुरुवार को जब लक्ष्मी सो रही थी तब मौका देखकर गला दबाकर लक्ष्मी की हत्या कर दी.

शुक्रवार की सुबह जब लक्ष्मी के पिता बलवंत सिंह अपनी बेटी के घर आए तो उन्होंने देखा कि लक्ष्मी की लाश बेड पर पड़ी हुई है और उसका पति हरिओम लाश के पास ही बैठा हुआ है. इसके बाद बलवंत सिंह ने पुलिस को फोन किया और हरिओम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, हरिओम ने पुलिस से कहा, ”हमारी शादी 2006 में हुई थी और हमारे दो बच्चे भी हैं. शुरुआत में सब ठीक था लेकिन एक दिन मैंने अपनी पत्नी को स्मार्टफोन लेकर दे दिया और बस यहीं से हालात खराब होने लगे. पिछले दो सालों में फोन में बिजी रहने की वजह से पत्नी का व्यवहार काफी बदल गया और वो बच्चों को और मुझे इग्नोर करने लगी.”

आरोपी पति ने आगे कहा, ”लक्ष्मी के व्यवहार से ऐसा लगने लगा था कि उसकी जिंदगी में मेरी और बच्चों की कोई अहमियत नहीं बची है. वो खाना बनाना या घर का कोई और काम भी नहीं करती थी, न तो वो बच्चों को स्कूल छोड़ने जाती थी और न ही उनके होमवर्क में उनकी मदद करती थी. वो दिन रात बस फेसबुक और व्हाट्सएप पर बिजी रहती थी. फेसबुक और व्हाट्सएप पर बिजी रहने की वजह से ही मुझे अपने दोनों बच्चों को बोर्डिंग स्कूल में भी भेजना पड़ा था. वो मुझे कभी भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट को देखने नहीं देती थी, मुझे शक है कि ऑनलाइन उसका कोई अफेयर था. गुरुवार रात को हमारी इसे लेकर लड़ाई हुई थी और जब वो सो रही थी तब मैंने उसका गला दबाकर उसे मार दिया.” हरिओम के खिलाफ हत्या की धारा 302 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.