नई दिल्ली। उत्तराखंड में एक महिला के पुरुष बनकर दो महिलाओं के साथ शादी का अजीबोगरीब मामला सामने आया है. काठगोदाम पुलिस ने कृष्णा नाम की एक महिला को गिरफ्तार किया है जिसने पुरुष बनकर दो महिलाओं से शादी की. पुलिस का कहना है कि मेडिकल चेकअप में इसके महिला होने की पुष्टि हो चुकी है. इस महिला ने पुरुष बनकर एक महिला से फेसबुक पर दोस्ती की और 2014 में उससे शादी कर ली. बाद में उसने दूसरी महिला से शादी कर ली. इस मामले के सामने आने के बाद दोनों महिलाओं ने बताया कि वह किस तरह का बर्ताव करती थी.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पीड़िता ने बताया, हमारी शादी 2014 में हुई थी. इसके बाद से ही वह आदमी की तरह बर्ताव करने लगी थी. वह शराब और सिगरेट पीने लगी. मारपीट भी करती थी. जब उसने दूसरी महिला के साथ शादी की तो मुझे जान से मारने की धमकी दी. मेडिकल जांच के बाद कन्फर्म हो गया कि वह पुरुष नहीं बल्कि महिला थी.

वहीं, दूसरी पीड़ित महिला ने कहा कि हमारी शादी दो साल चली. मुझे उसकी सच्चाई का पता बाद में चला. लेकिन मैंने कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई. मैं अब उसके साथ नहीं रहना चाहती हूं.

झांसा देकर की शादी

2014 को काठगोदाम निवासी एक महिला की शादी बिजनौर जिले के धामपुर के रहने वाले कृष्णा से हुई. कृष्णा ने खुद को पुरुष बताकर ये शादी की. इसके बाद दोनों हल्द्वानी के मल्ला गोरखपुर इलाके में किराये के मकान में रहने लगे. दरअसल, साल 2013 में 26 साल के कृष्णा ने फेसबुक पर आईडी बनाकर इस युवती को प्रेम जाल में फांसा था. इसके बाद दोनों ने शादी कर ली.

ऐसे फंसी जाल में

शादी के बाद दोनों में अनबन होने लगी. कृष्णा ने अप्रैल 2016 को कालाढूंगी निवासी एक छात्रा को झांसा देकर शादी कर ली. सालों तक इन दोनों महिलाओं को कृष्णा की सच्चाई का पता ही नहीं चला. मामला तब खुला जब पहली पत्नी ने इसके खिलाफ दहेज उत्पीड़न और दूसरी शादी का केस दर्ज कराया. कृष्णा की गिरफ्तारी हुई तो उसका मेडिकल चेकअप हुआ जहां पता चला कि दरअसल वह पुरुष नहीं बल्कि महिला है. पुलिस भी ये सच्चाई जानकर हैरान रह गई. जांच में ये भी पता चला कि कृष्णा अंधेरे में शारीरिक संबंध बनाती थी और दोनों को डरा धमकाकर रखती थी.