आज सुबह योगगुरु बाबा रामदेव ने राजद सुप्रीमो लालू यादव से मुलाकात की और उनका हालचाल लिया। लालू आवास पहुंचे बाबा रामदेव ने लालू से मिलकर उनकी तबियत के बारे में जानकारी ली और उन्हें योगाभ्यास कराया। बाबा रामदेव ने कहा कि लालू जी से रिश्तेदारी जोड़ने नहीं उनकी तबियत के बारे में पूछने आया हूं।

रामदेव ने कहा कि लालू यादव से ना ही रिश्तेदारी और ना ही नोटबंदी की बात करने आया हूं, मुझे पता चला कि लालू जी की तबियत खराब है और बस उनसे मिलने चला आया। बाबा रामदेव ने अपनी भतीजी से लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप की शादी की बात से साफ इंकार करते हुए कहा कि ये मीडिया के द्वारा फैलायी गई गॉसिप है और कुछ नहीं।

बाबा ने कहा कि लालू यादव देश की राजनीतिक धरोहर हैं और उनका स्वस्थ रहना देश की राजनीति के लिए जरूरी है। यादव ने ट्विटर पर लिखा है कि उनके आवास पर उनका कुशलक्षेम पूछने आये बाबारामदेव जी ने कहा,’आप सामाजिक, राजनीतिक धरोहर है,देश की राजनीति के लिए आपका स्वस्थ रहना आवश्यक है’।कुशलक्षेम पूछने के लिए बाबा का धन्यवाद।
यह भी पढ़ें: रेलवे टिकट काउंटर्स पर डेबिट या क्रेडिट कार्ड से कर सकेंगे पेमेेंट

पटना आने का मकसद राजनीतिक नहीं, बल्कि पतंजलि का कार्यक्रम है जो पहले से तय था। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को पटना और बिहार के पतंजलि के वितरकों और मार्केटिंग से जुड़े लोगों के साथ रवींद्र भवन में बैठक करनी है। उनके आगमन से पहले उनके समर्थकों की भीड़ एयरपोर्ट पर जमा थी। जैसे ही वे बाहर निकले, बाबा रामदेव के जयकारे होने लगे। बंदे मातरम के भी नारे लगाए गए।

एयरपोर्ट से प्रस्थान करने से पहले बाबा रामदेव की आरती उतारी गई और टीका लगाया गया। उन्होंने भी हाथ हिला कर सबका अभिवादन किया। बाबा रामदेव के आने की वजह से पटना एयरपोर्ट रात 11 बजे तक खुला था। सीआईएसएफ के कमानडेंट धर्मवीर यादव व सीआईएसएफ के जवान उनकी सुरक्षा में मौजूद रहे।