सूरत: दलितों के मुद्दे को लेकर केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले को गुजरात में विरोध का सामना करना पड़ा. केंद्रीय मंत्री रविवार को जब सूरत में प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे, तब नाराज दलित युवकों ने विरोध जताते हुए उनके कंधे पर काला कपड़ा डाल दिया और उन पर दलित विरोधियों के साथ होने की बात कहते हुए विरोध जताया. इसके बाद पुलिस ने अठावले की प्रेस कॉन्फ्रेंस को बाधित करने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की प्रेस कॉन्फेंस सूरत स्थित राज्य के सर्किट हाउस में आयोजित की गई थी.

पुलिस ने बताया कि केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले की प्रेस कांफ्रेंस को बाधित करने के आरोप में तीन दलित लोगों को रविवार को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने बताया कि अठवाले के साथ राज्य सर्किट हाउस में यह घटना हुई. बता दें कि बीते 2 अप्रैल को देश भर में भारत बंद के दौरान हुई देश के कई राज्याेें में हिंसा हुई थी. दलितों के प्रदर्शन के दौरान 14 से ज्यादा मौतें हुई थीं. विपक्षी दलों ने केंद्र की एनडीए सरकार को दलित विरोधी करार दिया था.

पुलिस ने गिरफ्तार किए लोगों की पहचान कुणाल सोनावणे , मनोज पैडे और दीपक सात्वे के तौर पर की.कार्यकर्ता सोनावणे दलित समुदाय के खिलाफ अत्याचार के बावजूद मंत्री की खामोशी पर नाराज था.अठावले जिस मंच पर बैठे थे, सोनावणे उधर गया और विरोधस्वरूप उनके कंधे पर काला कपड़ा रख दिया. घटना के वक्त सोनावणे के साथ दो अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया. (इनपुट- एजेंसी)