1 अप्रैल को हर साल अप्रैल फूल मनाया जाता है. इस मौके पर आप अपने दोस्‍तों और पर‍िवार वालों को अपने झूठ से बुद्धू बनाते हैं. हां लेक‍िन इस द‍िन यह ख्‍याल जरूर रखें क‍ि आपके प्रैंक से क‍िसी का द‍िल ना दुखे.

इन आइड‍ियाज की मदद लें और अपनों को मूर्ख बनाएं

1. अपने दोस्‍तों और पर‍िवार के क‍िसी खास सदस्‍य को ग‍िफ्ट दें. लेकिन डब्‍बे में सब्‍जी के छ‍िलके या कागज भर दें. डब्‍बे को अच्‍छी तरह सजा दें. रंगीन कागज से सजाएं. जब दोस्‍त मूर्ख बन जाए और गुस्‍सा हो जाए तो उसे गले लगाएं और फ‍िर उसे सच में कोई तोहफा दें. इस तरह आप अप्रैल फूल भी मना लेंगे और अपनो के और करीब भी आ जाएंगे.

chair

आप कुर्सी के नीचे ये लगाकर अप्रैल फूल बना सकते है

mobile

मोबाइल फ़ोन पर ऐसा वॉलपेपर लगा सकते है

soap

नहानें के साबुन पर नैलपोलिश लगा सकते हैं

अप्रैल फूल डे जोक्‍स

प्रेमिका (प्रेमी से) – हम कहां जा रहे हैं?
प्रेमी- बेबी, लांग ड्राइव पर
प्रेमिका- तो तुमने मुझे पहले क्यों नहीं बताया?
प्रेमी- डार्लिंग, मुझे भी अभी-अभी पता चला, जब ब्रेक नहीं लगा

हम अगर मर्द हैं, तो आप सिर दर्द हो
हम अगर सच्चे हैं, तो आप बड़े बच्चे हो
हम अगर बारिश हैं, तो आप धूल हो
हम अगर कूल हैं, तो आप अप्रैल फूल हो!

इन लड़कियों से दिल लगाना एक भूल है
इन के पीछे इतना भागना फिजूल है
जिस दिन किसी लड़की ने कह दिया आई लव यू,
तो समझ लेना उस दिन अप्रैल फूल है!
पत्नी : जरा किचन से आलू लेते आना
पति : यहां तो कहीं आलू दिख नहीं रहे हैं
पत्नी : तुम तो हो ही अंधे..
कामचोर हो. एक काम ढंग से नहीं कर सकते…
मुझे पता था कि तुम्हें नहीं मिलेंगे, इसलिए मैं पहले ही ले आई थी
पप्पू फेंकू से बोलता हैः

अबे खजूर,
जू से भागे हुए लंगूर,
अबे सड़े हुए केले के छिलके,
चूसे हुए आम,
सर्किस के रिटायर्ड बंदर,
ऐसा किसी को ना कहना
फील होता है…!

पति ने पत्नी का हालचाल जानने के लिए टाइप किया, अब कैसा है सिरदर्द?
लेकिन टाइपो एरर हो गया और टाइप हो गया कैसी हो सिरदर्द
पति फिर लापता

बीवी: कल जो भिखारी आया था वह बहुत नालायक था
पति: क्यों क्या हुआ?
बीवी: आज सुबह वह फिर आया था और मुझे एक किताब दे गया है
पति: कौन सी?
बीवी: ‘खाना बनाना सीखें’

पप्पू : अगर दुनिया के सभी इंसानों का चेहरा एक जैसा होता तो क्या होता…
गप्पू : वही होता… जो गैस सिलिंडर का होता है…
कभी इस घर तो कभी उस घर…