नई दिल्ली: अमेरिका के एक राज्य में एक महीने तक वैसाखी का त्योहार मनाया जाएगा. अमेरिका के इस शहर का नाम औरेगन है. दरअसल, इस शहर में सिख समुदाय की संख्या ज्यादा है.लिहाजा राज्य ने सिखाेें के इस महत्वपूर्ण त्योहार को मनाने के लिए अप्रैल महीना को वैसाखी महीने का नाम दे दिया है. अल्पसंख्यक समुदाय की ओर से राज्य की प्रगति में दिए गए योगदान की सराहना करते हुए यह कदम उठाया गया है. इस बार वैसाखी 14 अप्रैल को मनाई जाएगी.

औरेगन के गर्वनर केट ब्राउन ने इस घोषणा पर सोमवार को हस्ताक्षर किए जिसमें अप्रैल को ‘ सिख अमेरिकी समुदाय के वैसाखी महीने के उत्सव ‘ के तौर पर घोषित किया गया है. साथ ही यह रेखांकित किया गया है कि अमेरिकी सशस्त्र बलों के देशभक्त सदस्यों के तौर पर समुदाय सुरक्षा और धार्मिक आजादी की ओर बढ़ता रहे.

अमेरिका के लगभग हर इलाके में सिख समुदाय मौजूद है और वहां किसान, इंजीनियर, डॉक्टर, वैज्ञानिक तथा अन्य प्रोफेशन के जरिये वहां की अर्थव्यवस्था में अपना योगदान दे रहे हैं. हालांकि इससे पहले इंडियाना, डेलावेर और न्यूजर्सी में भी अप्रैल के महीने को सिख धर्म के इस त्योहार के लिए समर्पित करने की घोषणा हो चुकी है. औरेगन चौथा राज्य है जिसने अप्रैल के महीने को सिख धर्म को समर्पित किया है.

Happy Baisakhi 2018: संदेश और वाट्सऐप मैसेज

जानें क्यों मनाते हैं वैसाखी
वैसाखी को बैसाखी भी कहते हैं. इसे मनाये जाने को लेकर कई अलग-अलग मान्यताएं और कारण बताए जाते हैं.
1. बैसाखी को इसे मेष संक्रांति भी कहते हैं. क्योंकि इस दिन सूर्य मेष राशि में प्रवेश करता है.
2. ऐसी मान्यता है कि साल 1699 में इसी दिन सिखों के आखिरी गुरु, गुरु गोविंद सिंह ने सिखों को खालसा के रूप में संगठित किया था.
3. किसानों के खेत में फसल तैयार हो चुके होते हैं और फसलों की कटाई शुरू हो जाती है.

पंजाब और हरियाणा में इसे बड़े स्तर पर मनाया जाता है. इसके महत्व की तुलना दिवाली से की जाती है. इस त्योहर की तैयारी लोग कई दिन पहले से ही शुरू कर देते हैं.