लंदन: इंटरनेट के इस युग में हम स्मार्टफोन पर इतने निर्भर हो चुके हैं कि उसके बिना जीवन का कल्पना भी नहीं की जा सकती. जहां स्मार्टफोन का उपयोग करने के लिए बच्चों की सही आयु पर बहस चल रही है, वहीं लंदन में छह साल से कम उम्र के हर चौथे बच्चे के पास स्मार्टफोन है. यह खुलासा एक शोध में हुआ है.

Representative Image

द इंडिपेंडेंट के मुताबिक म्यूजिकमैग्पी के ऑनलाइन ट्रेड के शोधकर्ताओं के मुताबिक, छह साल और उससे कम उम्र के 25 फीसदी बच्चों के पास मोबाइल फोन है. इनमें से लगभग आधे बच्चे अपने मोबाइल फोन को हर हफ्ते 21 घंटे इस्तेमाल करते हैं. सर्वे के अनुसार, 75 फीसदी से ज्यादा परिजनों ने अपने बच्चे के पहले फोन के लिए 500 पाउंड तक खर्च किए.

File photo

शोधकर्ताओं में से एक लिआम हॉले के अनुसार, “शोध के दौरान अधिकांश परिजनों ने माना कि 11 साल की उम्र के बच्चे को मोबाइल दिया जा सकता है. हमने देखा, छह और इससे कम उम्र के 25 फीसदी बच्चों के पास उनके मोबाइल फोन थे.” शोधकर्ताओं के अनुसार, 10 में से 8 परिजनों ने अपने बच्चों पर स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने के लिए कोई भी समय सीमा निर्धारित नहीं की थी.

अमेरिका में फ्लोरिडा के प्रांतीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर थॉमस जोइनर ने कहा, “मोबाइल पर ज्यादा समय बिताने से तनाव और आत्महत्या का खतरा कई गुना बढ़ जाता है.” बता दें कि यह स्टडी ऐसे समय में जब स्मार्टफोन का हस्तक्षेप हमारी जिंदगी में लगातार बढ़ता जा रहा है. कई मामलों में देखा गया है कि युवाओं ने आत्महत्या करने के लिए स्मार्टफोन के जरिए मदद ली है.

-इनपुट आईएएनएस