भोपाल: मध्यप्रदेश में सर्व शिक्षा अभियान के तहत स्कूल शिक्षा विभाग ने सभी बसाहटों (बस्तियां) में शिक्षा मुहैया कराने के लिए प्राथमिक विद्यालय (पहली से पांचवी) खोले हैं. विभाग का दावा है कि राज्य में लगभग 28 हजार नए प्राथमिक विद्याल खोले गए हैं. आधिकारिक तौर पर सोमवार को दी गई जानकारी के अनुसार प्रदेश की सभी बस्तियों में स्कूलों की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है. सर्व शिक्षा अभियान के तहत 27 हजार 910 नए प्राथमिक विद्यालय खोले गए हैं और 17 हजार 851 प्राथमिक विद्यालयों को माध्यमिक विद्यालयों (आठवीं तक) में बदला गया है.

आरक्षण को लेकर बीजेपी के मंत्री का विवादित बयान, ‘अयोग्य’ को चुनना देश के लिए घातक

सरकारी तौर पर दिए गए ब्यौरे के मुताबिक अभियान के पूर्व बसाहटों में प्रारंभ किए गए विद्यालयों को मिलाकर अब प्राथमिक विद्यालयों की संख्या 83 हजार 890 और माध्यमिक विद्यालयों की संख्या 30 हजार 341 हो गई है. इस तरह सर्व शिक्षा अभियान प्रारंभ होने से प्राथमिक विद्यालयों की संख्या में 50 प्रतिशत और माध्यमिक विद्यालयों की संख्या में 143 प्रतिशत की वृद्घि हुई है.

सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत प्रदेश में नए भवनों का हुआ निर्माण.
सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत प्रदेश में 10 हजार 624 प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों के लिए नए भवन स्वीकृत किए गए. इनमें से 9,209 विद्यालय भवनों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है. शेष भवनों का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण किया जा रहा है. शिक्षा का अधिकार अधिनियम के निर्धारित मापदंडों के अनुसार, किसी भी बसाहट में छह से 11 वर्ष तक की आयु वर्ग के न्यूनतम 40 बच्चे उपलब्ध होने पर एक किलोमीटर की परिधि में प्राथमिक स्कूल खोला जा रहा है. इसी प्रकार बसाहट में 11 से 14 वर्ष तक की आयु वर्ग के न्यूनतम 12 बच्चे उपलब्ध होने पर तीन किलोमीटर की परिधि में माध्यमिक विद्यालय प्रारंभ किया जा रहा है. (इनपुट-एजेंसी)