मुंबई: बंबई हाईकोर्ट ने एक अहम मामले में 13 साल एक नाबालिग रेप पीड़िता को उसका 24 सप्ताह का गर्भ गिराने की अनुमति दे दी. कोर्ट ने लड़की को इलाज के लिए अगले दिन मुंबई के ही सरकारी अस्पताल पहुंचने को कहा. जस्टिस एनएच पाटिल और जस्टिस अनुजा प्रभुदेसाई की खंडपीठ ने सोमवार को महाराष्ट्र सरकार से यह भी बताने को कहा कि क्या उसने पुलिस को इस बारे में कोई परिपत्र या दिशा – निर्देश जारी किया है कि इस तरह के मामलों से कैसे निपटा जाए. अदालत ने सरकार से दो सप्ताह के बाद जवाब के साथ आने को कहा. पीठ 13 वर्षीय पीड़िता के पिता की याचिका पर सुनवाई कर रही थी.

20 सप्ताह से अधिक के लिए हाईकोर्ट की अनुमति
चिकित्सीय गर्भ समापन कानून के तहत 20 सप्ताह से अधिक के गर्भ को हाईकोर्ट की अनुमति से गिराया जा सकता है. बाम्बे हाई कोर्ट ने पिछले सप्ताह पीड़िता से बात की थी और सरकार संचालित जेजे अस्पताल के मेडिकल बोर्ड बोर्ड को उसकी स्थिति की जांच करने और सोमवार को रिपोर्ट देने को कहा था.

मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट पर दी अनुमति
बोर्ड ने अपनी रिपोर्ट में राय दी कि गर्भ गिराने की अनुमति दी जा सकती है, क्योंकि इसके जारी रहने से लड़की के जीवन को खतरा हो सकता है और उस पर नकारात्मक मनोवैज्ञानिक प्रभाव पड़ेगा.रिपोर्ट पर विचार करने के बाद हाईकोर्ट ने सोमवार को याचिका मंजूर कर ली और गर्भपात के लिए लड़की को मंगलवार को जेजे अस्पताल पहुंचने को कहा.

तत्काल ध्यान दिया जा सकता था
पुलिस को जस्टिस पाटिल ने कहा, ”वर्तमान मामले में पीड़िता को इस साल 17 मार्च को मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया गया और पुलिस को पता चला कि वह गर्भवती है. यदि उन्होंने लड़की या परिवार को इस बारे में उसी समय बता दिया होता, तो उसकी स्थिति पर मेडिकल के तौर पर तत्काल ध्यान दिया जा सकता था.

एक माह बेकार गया, पुलिस संवेदनशील हो
बेंच ने कहा , ” समय पर कार्रवाई होनी चाहिए. इस मामले में एक महीना बेकार हो गया. पुलिस को संवेदनशील होना चाहिए. जब इस तरह के मामले होते हैं, तो पुलिस को गर्भपात के संबंध में विकल्पों के बारे में पीड़िता, उसके माता – पिता या परिवार को सूचित करना चाहिए.”

ये है मामला
अभियोजन के अनुसार पिछले साल 29 जुलाई को लड़की को मुंबई के नजदीक उल्हासनगर स्थित उसके घर से 23 वर्षीय एक व्यक्ति ने अपहृत कर लिया था. पीड़िता और आरोपी इस साल मार्च में उत्तर प्रदेश में मिले थे. पुलिस ने व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया और लड़की को 17 मार्च को वापस मुंबई ले आई. (इनपुट- एजेंसी )