मुंबई: मुंबई स्थित सरकारी जेजे अस्पताल ने रविवार को पुष्टि की है कि इंद्राणी मुखर्जी ने जरूरत से ज्यादा मात्रा में दवा खाई है. बता दे कि इंद्राणी अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में अगस्त 2015 से जेल में बंद है. अस्पताल का कहना है कि फिलहाल उसकी हालत स्थिर है. हालांकि, यह पता लगाना पुलिस का काम है कि उसने जरूरत से ज्यादा मात्रा में दवाएं कैसे खाई. डॉक्टरों ने बताया कि शुक्रवार की रात सवा 11 बजे इंद्राणी को आधी बेहोशी की हालत में बायकुला जेल से यहां लाया गया. उसे आईसीयू में भर्ती किया गया था.

इंद्राणी ने डॉक्टर को जवाब नहीं दिया 
जेजे अस्पताल के डीन डॉक्टर सुधीर नंनदकर ने मीडिया से कहा, ” यह जरूरत से ज्यादा मात्रा में दवाएं देने का मामला है. वह अवसाद की दवाएं ले रही थी. मैंने उससे पूछा कि उसने कौन सी दवा ली है, उसने कोई जवाब नहीं दिया. मैं उससे फिर सवाल करूंगा. जहां तक बात दवाओं की मात्रा की है, पुलिस इसकी जांच करेगी.” उन्होंने बताया कि जेल के सुरक्षाकर्मी समय-समय पर 46 साल की इंद्राणी को दवाएं देते हैं.

जांच का का काम पुलिस का 
अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि इंद्राणी को यह दवाएं नहीं दी जाती हैं और नहीं उसे इन दवाओं को अपने पास रखने की इजाजत है. डॉक्टरों में से एक का कहना है, किन हालात में मात्रा से ज्यादा दवाएं दी गई हैं, इनकी जांच करना पुलिस का काम है.

बेटी की हत्या में दो साल से बंद है जेल में
आईएनएक्स मीडिया की पूर्व सह संस्थापक को 2015 में गिरफ्तार किया गया था. अपनी बेटी शीना बोरा हत्या मामले में वह मुकदमे का सामना कर रही हैं. इस मामले में वह मुख्य आरोपी हैं. (इनपुट-एजेंसी)