मुंबई: महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले की पुलिस ने शिवसेना के एक स्थानीय नेता और एक पार्टी समर्थक की शनिवार को हुई हत्या के संबंध में एनसीपी एमएलए संग्राम जगताप और एक संदिग्ध शूटर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है. इस बीच, जगताप के समर्थकों ने उनकी गिरफ्तारी के बाद अहमदनगर पुलिस अधीक्षक के कार्यालय में तोड़फोड़ की. इस तोड़फोड़ को लेकर विधायक के 22 समर्थकों को गिरफ्तार किया गया है.बता दें कि क्षेत्र में निकाय उपचुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद केडगांव के शाहूनगर क्षेत्र में दो बाइक सवार हमलावरों ने शनिवार की शाम शिवसेना के स्थानीय नेता संजय कोतकर (35) और वसंत थुबे (40) की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने कहा कि पुलिस ने एसपी कार्यालय में तोड़फोड़ पर कम से कम 22 लोगों को गिरफ्तार किया है और एमएलए के 31 अन्य समर्थकफरार हैं. उन्होंने कहा कि हत्या के संबंध में दो अन्य विधायकों में एनसीपी के अरुण जगताप और बीजेपी के शिवाजी कार्डिले के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

एक पुलिए अधिकारी ने कहा, ”हमने शिवसेना के दो स्थानीय नेताओं की हत्या के सिलसिले में एनसीपी विधायक संग्राम जगताप (33), बालासाहेब कोतकर (59), संदीप गुंजाल (28) और भानुदास कोतकर (44) को गिरफ्तार किया है.’ उन्होंने कहा कि चार आरोपियों में से गुंजाल ने अपराध में कथित रूप से शामिल हथियार के साथ पारनेर थाने में आत्मसमर्पण किया. पुलिस को गुंजाल के शूटर होने का संदेह है. गुंजाल ने पुलिस से कहा कि उन्होंने पुरानी रंजिश के कारण यह अपराध किया और हत्या का राजनीति से कोई संबंध नहीं है.

सभी आरोपियों को रविवार को स्थाऩीय अदालत के सामने पेश किया गया. इसके बाद कोर्ट ने इन आरोपियों को 12 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया. पुलिस ने विधायक के खिलाफ आपराधिक साजिश रचने का मामला दर्ज किया. (इनपुट- एजेंसी)