रायपुरः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम “मन की बात” छत्तीसगढ़ के स्कूलों में सुनना अनिवार्य कर दिया गया है. राज्य के शिक्षा विभाग ने इस बाबत नोटिस जारी किया है. प्रधानमंत्री मोदी 16 फरवरी को सुबह 11 से 12 बजे तक छात्रों को संबोधित करेंगे. कार्यक्रम में पीएम बताएंगे कि बच्चे परीक्षा का तनाव कैसे कम करें.

राज्य शिक्षा विभाग की ओर से जारी नोटिस में कहा गया है कि छठवीं से बाहरवीं तक के छात्रों को आकाशवाणी और दूरदर्शन पर 16 फरवरी को सुबह 11 बजे आने वाला संदेश सुनाया जाएगा. उनके साथ शिक्षक, स्कूल प्रबंधन समिति और बीएड और डीएड के विद्यार्थियों को भी यह संदेश सुनना होगा.विभाग ने इस संबंध में सभी जिलों के अधिकारियों को पत्र लिखकर इसकी अनिवार्यता सुनिश्चित करने का भी आदेश दिया है. साथ ही छात्रों को संदेश सुनने की व्यवस्था करने के लिए भी निर्देश दिए गए हैं.

ये भी पढ़ेंः छेड़छाड़ की शिकार किशोरी को समाज से किया बाहर, ‘शुद्धिकरण’ के नाम पर काट दिए बाल

नोटिस में कहा गया है कि 16 फरवरी 2018 को सुबह 11 से 12 बजे जिले में संचालित समस्त माध्यमिक शालाओं और हायर सेकेंडरी स्कूलों के कक्षा 6वीं से 12वीं के छात्रों के लिए परीक्षा की तैयारी के संदर्भ में प्रधानमंत्री द्वारा बच्चों में परीक्षा के तनाव को कम कैसे करें इस संदर्भ में सीधे इंटरनेट, टीवी, रेडियो के माध्यम से लाइव प्रसारण सुन सकते हैं. नोटिस में कहा गया है कि प्रसारण को सुनने के लिए आवश्यक तैयारी पूरी करें.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षा में होने वाले तनाव को देखते हुए छात्रों के लिए किताब लिखी है. ‘एग्जाम वारियर्स(Exam Warriors)’ नाम की इस किताब का प्रकाशन पेंग्विन बुक्स ने किया है, यह किताब 208 पन्नों की है और इसकी कीमत 85 रुपए हैं.