इस्लामाबाद/ नई दिल्‍ली: जम्मू- कश्मीर में आर्मी और सीआरपीएफ कैम्‍प पर आतंकी हमलों बाद भारत की संभावित कड़ी कार्रवाई को लेकर डरा पाकिस्‍तान अब गीदड़ भपकी पर उतर आया है. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन की कड़ी चेतावनी के बाद पाकिस्‍तानी रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने मंगलवार को कहा कि भारत के किसी भी दुस्साहस का माकूल जवाब पाकिस्‍तान उसी की जुबान में देगा. वहीं, रक्षा मंत्री सीतारमन के एक और केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि आर्मी पाकिस्‍तान को इसका माकूल जवाब देगी.

जम्‍म-कश्‍मीर में आर्मी कैम्‍प में आतंकी हमले के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने इसमें पाकिस्‍तान के हाथ होने और उसे अंजाम भुगतने की चेतावनी थी. भारत के इस बयान के जवाब में दस्तगीर ने कहा कि भारत की ओर से किए गए किसी भी दुस्साहस का माकूल जवाब दिया जाएगा. पाकिस्तान, भारत के किसी भी दुस्साहस का जवाब उसी की जुबान में देगा. दस्तगीर ने कहा, ‘किसी भी भारतीय आक्रामकता, रणनीतिक गलत अनुमान, किसी भी पैमाने या तरीके के किसी दुस्साहस को किसी भी जगह पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और उसका समान व उचित जवाब दिया जाएगा’. पाकिस्तानी सशस्त्र बल पूरी तरह से तैयार हैं.

पाकिस्‍तान दोस्‍ती लायक नहीं, आर्मी देगी माकूल जवाब
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक कार्यक्रम में कहा, पाकिस्‍तान एक ऐसा देश है, जो किसी भी देश से मित्रतापूर्ण रिश्‍ते रखता. कुछ लोग बात करना चाहते हैं. हमने ईमानदारी के साथ शुरुआत की, लेकिन पाकिस्‍तान अब सारी सीमाएं पार कर चुका है. निश्चिंत रहिए, सेना एक माकूल जवाब देगी.

दक्षिण एशिया की स्थिरता पर प्रभाव
दस्तगीर ने भारत पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, ‘पाकिस्तान केंद्रित एक आक्रामक नीति और युद्धोन्मादी सत्ता के तहत तैयार बल, भारत द्वारा किसी संभावित सामरिक गलत कदम को उठवा सकते हैं, जिसका दक्षिण एशिया की स्थिरता पर गंभीर प्रभाल पड़ेगा.’

समझौता एक्सप्रेस ब्‍लास्‍ट का राग अलापा
पाकिस्‍तानी रक्षामंत्री ने कहा कि भारत 11 साल पहले समझौता एक्सप्रेस में मौत के घाट उतारे गए 42 पाकिस्तानियों को इंसाफ देने में नाकाम रहा है.

पाकिस्‍तान इसलिए डरा
सुंजवान आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले के पीछे भारत ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के साथ पाकिस्‍तान का हाथ बताया है. इसके बाद पाकिस्‍तान डरा हुआ है. सोमवार को रक्षा मंत्री सीतारमन से पहले ही पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने अपना स्‍टेटमेंट जारी किया था. इसमें कहा था, कश्मीर में भारत एलओसी पार करने का दुस्‍साहस नहीं करे, नहीं तो जवाबी कार्रवाई होगी.   (इनपुुुट एजेंसी पीटीआई  / एएनआई)