बेंगलुरू: वेलेंटाइन डे से पहले बेंगलुरू हवाईअड्डे से करीब 52 लाख गुलाब 25 देशों में निर्यात किए गए. बेंगलुरू अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड (बीएआईएल)ने बुधवार को कहा, “एक से 14 फरवरी के बीच 25 देशों के 36 गंतव्यों पर 52 लाख तने के रूप में करीब 325 टन गुलाब निर्यात किए गए.”

कर्नाटक का गुलाब मलेशिया, कुवैत, सिंगापुर, जापान, अमेरिका, ब्रिटेन, दक्षिण कोरिया, नीदरलैंड और न्यूजीलैंड के अलावा अन्य देशों में निर्यात किया गया. गुलाबों का निर्यात पिछले साल के मुकाबले करीब 10 फीसदी बढ़ा है. पिछले साल करीब 293 टन गुलाब फरवरी के दो सप्ताह यानि की एक से 14 फरवरी के दौरान 15 देशों में निर्यात हुआ था.

बीएआईएल के प्रबंध निदेशक हरि मरार ने एक बयान में कहा, “इस साल गुलाबों के निर्यात वाले गंतव्यों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई.”

मलेशिया, कुवैत और सिंगापुर शीर्ष तीन आयातक रहे. कर्नाटक देश में फूलों का उत्पादन करने वाला सबसे बड़ा राज्य है. भारत ने 2016-17 में विश्व में करीब 525 करोड़ रुपये के फूलों का आयात किया था.

राज्य डच गुलाब (हल्का लाल गुलाब), नोबलेस (गहरा लाल गुलाबी गुलाब), गोल्ड स्ट्राइक (पीला गुलाब) जैसे गुलाबों के प्रकार के लिए मशहूर है. फरवरी और मार्च के दौरान वेलेंटाइन डे, चीनी नए साल (16 फरवरी) और अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (8 मार्च) के लिए लाखों गुलाब राज्य विभिन्न देशों में निर्यात किए जाते हैं.