भारतीय परिवारों में शादी-ब्याह का बाज़ार लाखों-करोड़ों का है। लोग अपने बेटे बेटियों की शादी में ज़िंदगी भर की जमा पूंजी तो लगा ही लेते हैं, साथ ही बड़ी संख्या में लोन भी लेते हैं। ऐसे में कुछ लोगों के लिए शादी सेलिब्रेशन का मौका होता है तो वहीं जो लोग समाज के दबाव में आकर शादियों में बेहिसाब पैसा खर्च कर देते हैं वो सालों इस खर्चे से उबर नहीं पाते। लेकिन इन सबका मतलब ऐसा नहीं है कि बिना लाखों खर्च किये बिना शादिया हो ही नहीं रही। नई पीढ़ी के युवा इन दिनों सिंपल शादी की ओर बढ़ते दिख रहे हैं। इसी सिलसिले को आगे बढ़ाते हुआ हाल ही में दो आईएएस अफसरों ने महज़ 500 रुपये में शादी करके एक नई मिसाल कायम की है।

आईएएस अफसर आशीष वशिष्ठ और सलोनी सीडाना ने सोमवार को डिस्ट्रिक मेजिस्ट्रेट की कोर्ट में शादी कर ली। ये दोनों ही साल 2014 बैच के थे। दोनों ने एक साथ ट्रेनिंग ली है। हालांकि ये लव मैरिज नहीं, बल्कि अरेंज मैरिज है। मीडिया में आई ख़बरों की माने तो इन दोनों की शादी में सिर्फ 500 रुपये ही खर्च हुए। बता दें कि 8 नवंबर के बाद से 500-1000 के नोट बंद हो जाने के बाद इस शादी के सीज़न में लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जिनके घरों में शादी है वो बैंकों की लाइनों में खड़े हुए हैं। ऐसे में ये अफसरों की शादी किसी बड़े उदाहरण से कम नहीं है।

फिलहाल आशीष वशिष्ठ भिंड के गोहद में एसडीएम हैं और उनकी पत्नी बन चुकी सलोनी भी प्रोबेशनर अफसर के रूप में अपनी सेवाएं दे रही हैं। वह अभी आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा में एसडीएम हैं। कैडर बदलने के लिए दोनों को विधिवत तौर पर शादी करना जरूरी था। इस इस वजह से एसडीएम आशीष वशिष्ठ ने भिंड के एडीएम कोर्ट में शादी के लिए आवेदन दिया था। उन्होंने बताया कि कैडर बदलने की प्रक्रिया में एक से दो महीने का समय लगता है। इसे भी पढ़ें – टैक्सी ड्राइवर बन गया अंबानी से अमीर

बहरहाल, आशीष और सलोनी आज के युवाओं के लिए एक बड़ी प्रेरणा हैं। जिस तरीके से दोनों ने इतने बड़े अफसर होकर भी इतनी सादी शादी की है, इससे समाज को एक नई दिशा मिलेगी।