एक मशहूर पर्वतारोही ने खुद को मौत की नींद सुला ली. इस पर्वतारोही ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि मोंटाना में एक हिमस्खलन में इसकी आंखों के सामने गर्लफ्रेंड की मौत हो गई थी और वह उसे बचा नहीं सका था. 27 साल के हेडेन केनेडी और 23 साल की इंग पर्किंस सदर्न मेडिसन रेंज में चढ़ाई कर रहे थे जब शनिवार को हिमस्खलन से उनका सामना हुआ. वह समुद्र तट से 10 हजार फीट की ऊंचाई पर थे.

पर्किंस भी एक पर्वतारोही थीं लेकिन बर्फ की 150 फीट की चादर ने उनकी जिंदगी छीन ली. इसके बाद केनेडी रविवार को अपने घर पर मृत पाए गए. हेडेन हिमस्खलन से तो बच गए थे लेकिन अपने पार्टनर की मौत के गम ने उन्हें अंदर तक झकझोर दिया था. केनेडी के माता-पिता ने अपने बेटे को एक ऐसा इंसान बताया जो हमेशा रिश्तों को प्राथमिकता देता था.

केनेडी ने मौत से दो हफ्ते पहले एक क्लाइंबिंग ब्लॉग पर लिखा था कि उन्होंने पिछले कुछ सालों में कई दोस्तों को पहाड़ों पर मरते देखा है. उन्होंने लिखा- ‘ये हमारे खेल का दर्दनाक सच है. पर्वतारोहण या तो एक खूबसूरत तोहफा है या फिर एक अभिशाप.’

केनेडी की परवरिश कोलोराडो के कार्बोंडेल में हुई थी और वह अपने पैरामेडिक सर्टिफिकेशन पर काम करते थे जबकि पर्किंस ने मोंटाना स्टेट यूनिवर्सिटी से मैथ में बैचलर डिग्री हासिल कर ली थी.