पटना. बिहार की राजधानी पटना की बेऊर जेल के आवासीय परिसर में गुरुवार को जेल के कक्षपाल की उसके ही भांजे ने गोली मारकर हत्या कर दी और फिर खुद को भी गोली मार ली. गोली लगने से उसकी भी घटनास्थल पर ही मौत हो गई. पुलिस के अनुसार सुबह बेऊर जेल में कक्षपाल के रूप में कार्यरत संतोष कुमार सिंह को उसके भांजे विकास कुमार सिंह ने गोली मार दी और फिर छत पर जाकर खुद भी गोली मारकर आत्महत्या कर ली.

घटना के बाद गंभीर रूप से घायल संतोष को इलाज के लिए पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) भेजा गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. बेऊर थाना के प्रभारी आलोक कुमार ने बताया कि घटनास्थल से पुलिस ने हत्या और आत्महत्या में प्रयुक्त की गई पिस्तौल और दो गोलियां बरामद की हैं. हत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं चल सका है. पुलिस सभी कोणों से मामले की छानबीन कर रही है.

उल्लेखनीय है कि विकास पहले अपने मामा के घर पर ही रहता था, लेकिन कुछ दिनों से वह अपने घर गया हुआ था. मृतक संतोष अकौना पुनपुन का रहने वाला है, जबकि विशाल सिंह पटना के रानी तालाब क्षेत्र का रहने वाला बताया जा रहा है.