नई दिल्ली: दिल्ली डेयरडेविल्स के गेंदबाजी कोच श्रीधरन श्रीराम ने कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 71 रन से मिली हार की वजह आंद्रे रसेल के 12 गेंदों में बनाए गए 41 रनों की विस्फोटक को बताया है. श्रीराम ने मैच के बाद मीडिया से कहा, “इस विकेट पर 200 का स्कोर बहुत बड़ा था. मुझे लगता है कि 170-180 का स्कोर हासिल किया जा सकता था. लेकिन मध्य ओवरों में रसेल की पारी ने मैच को हमसे दूर कर दिया. हमने प्लानिंग अच्छी की थी लेकिन उसे सही तरीके से अमल में नहीं ला सके.”

रसेल उस समय बल्लेबाजी करने आए थे, जब कोलकाता का स्कोर 14वें ओवर में चार विकेट पर 113 रन था. लेकिन इसके बाद उन्होंने 12 गेंदों पर 41 रन ठोककर पूरा मैच ही पलट दिया. रसेल ने मोहम्मद समी की गेंद पर छह छक्के लगाए. इसके अलावा नीतीश राणा ने 35 गेंदों पर 59 रन की पारी खेली. कोच ने कहा, “जब भी आप 200 रनों का पीछा करते हैं तो आपके किसी एक खिलाड़ी को 70-80 रन बनाने होंगे. यदि आप टी-20 का इतिहास देखें तो जब भी बड़े स्कोर को चेज किया गया है तो किसी एक खिलाड़ी ने 70 या उससे अधिक रन बनाए हैं.”

वानखेड़े में ’49 रन’ बनाते ही कोहली तोड़ देंगे ये खास रिकॉर्ड, उमेश यादव के पास इतिहास बनाने का मौका

दिल्ली के लिए ऋषभ पंत ने 26 गेंदों 43 और ग्लैन मैक्सवेल ने 22 गेंदों पर 47 रन बनाए। दोनों ने 32 गेंदों पर चौथे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की. श्रीराम ने कहा,” पंत और मैक्सवेल सेट हो गए थे लेकिन वह वैसा नहीं कर पाए जैसा कि उन्होंने वानखेड़े में किया था.” गेंदबाजी कोच ने माना कि पावरप्ले में दिल्ली की गेंदबाजी चिंता का विषय है. उन्होंने कहा, “पान्वरप्ले में हमारी गेंदबाजी परेशान करने वाली है और हमें इस पर जल्द से जल्द काम करने की जरूरत है.”

VIDEO: नितीश राणा का वो कैच जिसने बदल दिया मैच का रुख, कार्तिक बोले – ”प्लानिंग की थी”

बता दें कि आंद्रे रसेल ने कोलकाता की तरफ से शानदार प्रदर्शन करते हुए आईपीएल 2018 में अब तक चार मैच खेले हैं, जिनमें 153 रन बना चुके हैं. इस दौरान रसैल का सर्वाधिक स्कोर नाबाद 88 रन रहा है. उन्होंने चार मैचों में कुल 19 छक्के जड़े हैं. रसेल बल्लेबाजी के साथ ही गेंदबाजी भी करते हैं. हालांकि इसमें उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिल पाए हैं. इनकी कोलकाता ने पिछले मुकाबले में दिल्ली को हराया था और अब टीम का अगला मैच राजस्तान रॉयल्स के खिलाफ है, जो कि 18 अप्रैल को खेला जायेगा.