नई दिल्ली: वरिष्ठ बल्लेबाज सुब्रमण्यम बद्रीनाथ का मानना है कि भारतीय टेस्ट टीम के नियमित सदस्य ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के माध्यम से वनडे और टी-20 टीम में वापसी कर सकते हैं. युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव के कारण अश्विन सीमित ओवरों की भारतीय टीम से अपनी जगह खो बैठे हैं. आईपीएल के आगामी 11वें संस्करण में अश्विन किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी करते नजर आएंगे. तमिलनाडु के पूर्व कप्तान बद्रीनाथ के अंदर ही अश्विन ने रणजी ट्रॉफी में पदार्पण किया था.

बद्रीनाथ ने कहा, “मैंने उनके साथ काफी क्रिकेट खेली है. मैं उन्हें एक इंसान के तौर पर भी जानता हूं, वह एक दोस्त हैं. वह कुछ करने को उतावले रहते हैं, वह हमेशा चुनौतियों के लिए तैयार रहते हैं. मुझे लगता है कि कप्तानी उन्हें एक मौका देगी, कुछ अतिरिक्त करने की प्ररेणा देगी. आप नहीं जानते, क्या पता वो अपनी कप्तानी में पंजाब को खिताब दिला दें. एक शानदार सीजन से उनका नाम एक बार फिर सीमित ओवरों में शामिल कर लिया जाए.”

IPL में पाक गेंदबाज का वो खतरनाक रिकॉर्ड जो अभी तक कोई नहीं तोड़ पाया

बद्रीनाथ ने कहा, “मैं नहीं समझता कि उनके लिए इससे अच्छा मौका हो सकता है. वह अपने करियर के उस पड़ाव पर हैं जहां उन्हें क्रिकेट से आगे भी सोचना चाहिए. उन्हें सिर्फ एक गेंदबाज के तौर पर क्या करना है क्या नहीं से ज्यादा वह और क्या कर सकते हैं, इस बारे में भी सोचना चाहिए.” अश्विन ने आखिरी बार पिछले साल जून में वेस्टइंडीज के खिलाफ नीली जर्सी पहनी थी. उन्होंने चैम्पियंस ट्रॉफी में तीन मैच खेले थे और सिर्फ एक विकेट लिया था.

उन्होंने कहा, “यह अच्छा मौका है और सही समय आया है. मैं उन्हें जानता हूं इसलिए कह सकता हूं कि वह इसे चुनौती की तरह लेंगे. यह उनके लिए आसान नहीं होने वाला है लेकिन वह इसके लिए तैयार हैं.” बद्रीनाथ ने दो साल बाद आईपीएल में वापसी कर चेन्नई सुपर किंग्स और दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स को इस सीजन की अपनी पसंदीदा टीम बताया है. उन्होंने कहा, “कोलकाता और चेन्नई दो सर्वश्रेष्ठ फ्रेंचाइजी हैं.”

IPL2018: कुलदीप यादव पर बढ़ेगा दबाव, पीयूष चावला ने किया खुलासा

बता दें कि अश्विन टीम के दिग्गज स्पिन गेंदबाज हैं. लेकिन वो भारत की टी-20 टीम में जुलाई 2017 के बाद वापसी नहीं कर पाए हैं. हालांकि इस दौरान उन्होंने टेस्ट मैचों में प्रभावी प्रदर्शन किया है. अश्विन आईपीएल 2017 में चोटिल होने की वजह नहीं खेल पाए थे. लेकिन इससे पहले आईपीएल 2016 में कमाल का प्रदर्शन कर चुके हैं. उन्होंने इस सीजन में 14 मुकाबले खेले थे, जिनमें 10 विकेट चटकाए थे. अश्विन ने अपने करियर में 111 मैच खेले हैं, जिनमें 100 विकेट झटके हैं. अश्विन चेन्नई सुपरकिंग्स और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स की तरफ से खेल चुके हैं. अब आईपीएल 2018 में किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी करेंगे.