नई दिल्ली: बीसीसीआई ने राष्ट्रीय टीम के 23 संभावित खिलाड़ियों पर करीबी नजर रखी है और मौजूदा इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान उन पर पड़े रहे बोझ पर नजर रखी जा रही है. ये 23 खिलाड़ी वे हैं जिन्हें बीसीसीआई की केंद्रीय अनुबंध सूची में जगह नहीं मिली है जिसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी जैसे एलीट अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी शामिल हैं. पृथ्वी शॉ और शिवम मावी जैसी अंडर 19 प्रतिभा के अलावा पिछले घरेलू सत्र में सर्वाधिक रन बनाने वाले मयंक अग्रवाल सहित इस सूची में वे सभी खिलाड़ी शामिल हैं जिनके बारे में चयन समिति को लगता है कि निकट भविष्य में उन्हें राष्ट्रीय या ए टीम में जगह दी जा सकती है.

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर कहा, ‘‘मुख्य योजना खिलाड़ियों को तीन समूहों में बांटने की है. पहले समूह में मौजूदा अंडर-19 खिलाड़ी शामिल हैं. दूसरा समूह पुराने अंडर 19 खिलाड़ियों का है जहां हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं जो भारत के लिए पिछले तीन से चार साल से अंडर 19 खेल रहे हैं और तीसरा समूह मौजूदा ए खिलाड़ियों का है.’’ बीसीसीआई इन खिलाड़ियों पर करीबी नजर रखना चाहता है क्योंकि व्यस्त कार्यक्रम के बीच आईपीएल में काफी यात्रा करनी पड़ती है और मैचों के बीच समय काफी समय होता है जिससे काम का बोझ अहम हो जाता है.

वानखेड़े में ’49 रन’ बनाते ही कोहली तोड़ देंगे ये खास रिकॉर्ड, उमेश यादव के पास इतिहास बनाने का मौका

पदाधिकारी ने कहा, ‘‘मैं आपको एक उदाहरण देता हूं. शिवम मावी या नवदीप सैनी जैसे युवा तेज गेंदबाज को उनके फ्रेंचाइजी कोच ट्रेनिंग सत्र के दौरान क्रिस लिन या एबी डिविलियर्स को 60 से 100 गेंद फेंकने के लिए कह सकते हैं क्योंकि उनका अंतिम एकदाश में खेलना तय नहीं है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘बीसीसीआई यहां हस्तक्षेप करता है. ये युवा हमारी संपत्ति हैं. भुवनेश्वर कुमार को अपने शरीर और काम के बोझ का पता है लेकिन जब मामला मावी, नवदीप या आवेश (खान) का आता है तो यह हमारी जिम्मेदारी है कि भारतीय क्रिकेट के हित में उन्हें बचाएं.’’

VIDEO: रैना-मुरली संग डांस करते नजर आए कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी

इस तेज गेंदबाजों के ट्रेनिंग कार्यक्रम को एनसीए के ट्रेनर और फिजियो ने तैयार किया है. सभी आठ फ्रेंचाइजी के ट्रेनर और फिजियो को भी इन सभी खिलाड़ियों के काम के बोझ के प्रबंधन को लेकर एनसीए को लगातार जानकारी देनी होती है. पता चला है कि बंगाल के अभिमन्यु ईश्वरन इस सूची में शामिल नहीं हैं क्योंकि वह आईपीएल नहीं खेल रहे लेकिन निश्चित तौर पर वह भारत ए के इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में जगह बनाने की दौड़ में शामिल हैं. बीसीसीआई केंद्रीय अनुबंध से बाहर इन खिलाड़ियों पर विशेष तौर पर नजर रख रहा है.

मौजूदा अंडर 19: पृथ्वी शॉ, शुभमन गिल, शिवम मावी और कमलेश नागरकोटि.

पूर्व अंडर 19: इशान किशन, ऋषभ पंत, आवेश खान, खलील अहमद और संजू सैमसन.

घरेलू, भारत ए: श्रेयष अय्यर, वॉशिंगटन सुंदर, विजय शंकर, जयदेव उनादकट, बासिल थंपी, दीपक हुड्डा, मयंक अग्रवाल, रविकुमार समर्थ, नवदीप सैनी, सिद्धार्थ कौल, हनुमा विहारी और अंकित बावने. (एजेंसी इनपुट के साथ)