हाल ही में वेस्टइंडीज के दौरे पर वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाकर चर्चा में आए टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि धोनी की मौजूदगी ने कोहली के लिए कप्तानी काफी आसान बना दी. रहाणे को चैंपियंस ट्रॉफी में खेलने का मौका नहीं मिला था और वह 12वें खिलाड़ी के तौर पर मैदान पर ड्रिंक्स ले जाते थे. लेकिन वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज में उन्होंने सबसे ज्यादा रन बनाते हुए सबको प्रभावित किया.

रहाणे ने अपने करियर में धोनी की भूमिका की तारीफ करते हुए कहा, ‘एमएस धोनी का साथ होना बेहतरीन है. हम भाग्यशाली हैं कि वह हमारे साथ हैं. उनके साथ होने से विराट के लिए (कप्तानी) आसान हो जाती है. कई बार विराट उनके पास जाते हैं और उन्हें बेहतरीन विचार मिल जाते हैं. इन दोनों को साथ में काम करते हुए देखना वाकई शानदार है.’

रहाण ने वेस्टइंडीज सीरीज में कोहली द्वारा खुद पर दिखाए गए भरोसे के लिए उनती तारीफ करते हुए कहा, ‘विराट ने मुझसे वेस्टइंडीज में खुद पर भरोसा करने और दबाव न लेने के लिए कहा था. उन्होंने मुझसे कहा था कि तुम बेस्ट हो और जानते हो कि परिस्थितियों से कैसे निपटना है. जब कप्तान आपसे आजादी से बैटिंग करने के लिए कहता है और कहता है कि मैं तुम्हारे साथ हूं और टीम आपके साथ होती है, इससे ज्यादा आप और क्या चाहते हैं.’  (कूल अजिंक्य रहाणे ने कहा, ’12वें खिलाड़ी के तौर पर ड्रिंक्स ले जाने से मेरा अहम को ठेस नहीं पहुंचती’)

रहाणे मार्च में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच में कप्तान थे और जून में चैंपियंस ट्रॉफी में 12वें खिलाड़ी के तौर पर मैदान में ड्रिंक्स ले जा रहे थे. लेकिन इससे उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता और न ही उनके अहम को ठेस पहुंचती है. रहाणे ने कहा, ‘अगर मैं टेस्ट टीम का उपकप्तान हूं तो इसका ये मतलब नहीं है कि मैं वनडे में 12वें खिलाड़ी के तौर पर अपनी भूमिका नहीं निभाऊंगा. जिस समय आप अपने देश का प्रतिनिधित्व करते हैं उस समय आपसे उम्मीद की जाती है कि आप हर वो जिम्मेदारी निभाएंगे जोकि आपको दी जाएगी. जब मैं चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान ड्रिंक्स ले जा रहा था तो मेरे साथ अहम की कोई समस्या नहीं था. मैं इसी तरह का इंसान हूं.’