नई दिल्ली: चेन्नई ने इंडियन टी-20 लीग में जीत के साथ वापसी करते हुए अपने पहले मैच में मुंबई को रोचक मुकाबले में एक रन से मात दी थी. अब अगले मैच में उसके सामने कोलकाता की चुनौती है. कोलकाता ने नए कप्तान दिनेश कार्तिक के नेतृत्व में रविवार को अपने पहले मैच में बेंगलोर को हराया. अब दोनों टीमें विजयी शुरुआत के बाद मंगलवार को एम. ए चिदम्बरम स्टेडियम में आमने-सामने होंगी.

चेन्नई को लगा बड़ा झटका, टीम का दिग्गज खिलाड़ी चोटिल होकर टूर्नामेंट से बाहर

चेन्नई के लिए पिछले मैच में वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो ने 30 गेंदों में 68 रनों की पारी खेली और उनके बाद चोटिल केदार जाधव ने आखिरी ओवर में जरूरी सात रन बनाकर चेन्नई को जीत दिलाई थी. चेन्नई को पहले मैच की कमियों से पार पाना होगा. मुंबई के खिलाफ उसका शीर्ष क्रम और मध्य क्रम लड़खड़ा गया था, लेकिन ब्रावो ने उसे हार से बचा लिया.

शाहरुख ने बताई दिल की बात, अबराम क्रिकेट नहीं बल्कि इस खेल में करें भारत का प्रतिनिधित्व

उसके सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन और अंबाती रायडू पहले मैच में टीम को अच्छी शुरुआत देने में असफल रहे थे. सुरेश रैना और टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी बल्ले का कमाल नहीं दिखा पाए थे. चेन्नई की गेंदबाजों ने मुंबई को बड़ा स्कोर करने से रोक दिया था. हालांकि मार्क वुड, दीपक चहर, हरभजन सिंह और वॉटसन ने रनों पर अंकुश तो लगाया था, लेकिन लगातार अंतराल पर विकेट नहीं ले पाए थे.

कोलकाता के खिलाफ चेन्नई के गेंदबाजी आक्रमण की परीक्षा होगी क्योंकि बेंगलोर के खिलाफ सुनील नरेन की 19 गेदों में 50 रनों की पारी के तूफान ने सभी को हैरान कर दिया और ऐसा पहली बार नहीं था कि नरेन ने इस तरह की पारी खेली हो. वह इससे पहले पिछले सीजन में भी इस तरह की पारियां खेल चुके हैं.

गेंदबाजों पर कहर की तरह बरसे लोकेश राहुल, तोड़ डाला सालों पुराना रिकॉर्ड

नितीश राणा से भी चेन्नई के गेंदबाजों को बच कर रहना होगा. राणा ने न सिर्फ बल्ले बल्कि गेंद से भी बेंगलोर को परेशान किया था. उन्होंने एबी डिविलियर्स और विराट कोहली जैसे बल्लेबाजों के विकेट लिए थे. बल्ले से उन्होंने नंबर-4 पर आते हुए 25 गेंदों में 34 रनों की पारी खेली थी. इन दोनों के अलावा कोलकाता के कप्तान दिनेश कार्तिक और अनुभवी बल्लेबाज रोबिन उथप्पा के खतरे से भी धोनी वाकिफ होंगे.

कोलकाता के लिए उसकी गेंदबाजी थोड़ी चिंता का विषय है. पिछले मैच में मिशेल जॉनसन, कुलदीप यादव, नरेन अपना प्रभाव नहीं छोड़ सके थे. चेन्नई की बल्लेबाजी के सामने अगर कोलकाता के गेंदबाज विफल रहते हैं तो बोर्ड पर बड़ा स्कोर तय है.

टीम :

चेन्नई : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान/विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, केदार जाधव, ड्वेन ब्रावो, कर्ण शर्मा, शेन वॉटसन, शार्दुल ठाकुर, अंबाती रायडू, मुरली विजय, हरभजन सिंह, फाफ डु प्लेसिस, मार्क वुड, सैम बिलिंग्स, इमारन ताहिर, दीपक चहर, लुंगी एन्गिडी, के.एम. आसिफ, एन. जगादेसन, कनिष्क सेठ, मोनू सिंह, ध्रुव शोरे, क्षितिज शर्मा, चेतन्य बिश्नोई.

कोलकाता : दिनेश कार्तिक (कप्तान/विकेटकीपर), आंद्रे रसैल, क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नितीश राणा, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभमन गिल, विनय कुमार, रिंकू सिंह, कैमरून डेलपोर्ट, जेवन सीयरलेस, अपूर्व वानखेड़े, इशांक जग्गी, टॉम कुरेन.