नई दिल्ली. कॉमनवेल्थ गेम्स के टेबल टेनिस ईवेंट में भारत का जबरदस्त खेल देखने को मिला है. इस खेल के मेंस और वूमेंस दोनों ही कैटेगरी में भारत ने सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है. क्वार्टरफाइनल में दोनों टीमों का सामना मलेशिया से था जहां उन्होंने दबदबे वाला प्रदर्शन करके 3-0 के समान अंतर से जीत दर्ज की.

सिंगल्स में भारत की महिला टीम की मनिका बत्रा ने मलेशिया की यींग हो को 11-9, 11-7, 11-7 से शिकस्त देकर जीत से शुरूआत की. उसके बाद मधुरिका पाटकर ने दूसरे मैच में पहला सेट गवांने के बाद जबरदसल्त वापसी की और कारेन लयने को 7-11, 11-9, 11-9, 11-3 हराया. महिलाओं के डबल्स मुकाबले में भारत की मोउमा दास और मधुरिका की जोडी ने एई जीन टी और यिंग हो की मलेशियाई जोड़ी को 11-8, 12-10 11-8, 11-7 से पटखनी दी.

CWG 2018 : इंजरी के बावजूद सतीश शिवालिंगम ने भारत को वेटलिफ्टिंग में दिलाया तीसरा गोल्ड

CWG 2018 : इंजरी के बावजूद सतीश शिवालिंगम ने भारत को वेटलिफ्टिंग में दिलाया तीसरा गोल्ड

टेबल टेनिस की महिला खिलाड़ियों की ही तरह पुरुषों के वर्ग में भी भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन शानदार रहा. मेंस कैटेगरी के सिंगल मुकाबले में हरमीत देसाई ने ची फेंग लियोंग पर 11-4, 12-10, 11-6 से जीत दर्ज की तो वही अचंत शरत कमल ने मोहम्मद अशरफ हक मोहम्मद रिजल को 11-8, 11-7, 11-6 हार का स्वाद चखाया. वहीं डबल्स में साथियान गनासेकरन और हरमीत की जोड़ी ने जावेन चूंग और ची फेंग लियोंग को 11-7, 11-6, 11-7 से मात दी.

पुरूषों के सेमीफाइनल में अब नौ अप्रैल को भारत सिंगापुर से भिड़ेगा तो वहीं पदक पक्का करने के लिए महिला टीम को कल इंग्लैंड की चुनौती से पार पाना होगा.