नई दिल्ली. IPL के आगाज में अभी वक्त है लेकिन चेन्नई सुपरकिंग्स अभी से ही इस टूर्नामेंट के चैम्पियन बन गई है. उन्होंने आईपीएल इलेवन में अपनी खिताबी जीत का जश्न मनाना भी शुरू कर दिया है. वो इस जश्न में नाच रहे हैं, गा रहे हैं और झूम भी रहे हैं. और तो और उन्हें IPL-11 की चमचमाती ट्रॉफी भी मिल गई है. जी नहीं, हम आपसे ये सब यूं ही नहीं कह रहे, बल्कि ऐसा सच में हुआ है. दरअसल, इसे आप चेन्नई सुपरकिंग्स की चैम्पियन बनने की बेताबी भी कह सकते हैं. ये बेताबी हो भी क्यों ना आखिर ये टीम 2 साल के बैन के बाद IPL की पिच पर वापसी जो कर रही है. अगले 2 महीनों में 60 मैचों के बाद चेन्नई सुपरकिंग्स की ये बेताबी कहां जाकर ठहरती है ये तो बाद की बात है लेकिन फिलहाल के लिए ये चैम्पियन हैं.

ऑटो पर सुपरकिंग्स का भांगड़ा, भज्जी बने 'सरदार'

ऑटो पर सुपरकिंग्स का भांगड़ा, भज्जी बने 'सरदार'

तैयारी चैम्पियन बनने की

चेन्नई सुपरकिंग्स ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें धोनी के एक कैच लेते ही सुपरकिंग्स का पूरा खेमा झूम उठता है और धोनी के साथ खिताबी जीत के जश्न में शरीक हो जाता है.

 

इस वीडियो में धोनी के कैच पकड़ते ही सुपरकिंग्स के सारे खिलाड़ी उनकी ओर दौड़ पड़ते हैं. सबसे पहले धोनी से मुरली विजय लिपटे और फिर बाकी खिलाड़ियों के साथ जीत का जश्न शुरू हो गया. ये जश्न खिताबी जीत की है क्योंकि सुपरकिंग्स के एक खिलाड़ी के हाथों में चमचमाती हुई ट्रॉफी भी है जो हूबहू IPL की ट्रॉफी की तरह है. इस वीडियो में सुपरकिंग्स के खिताबी जीत के जश्न को मुरली विजय लीड कर रहे हैं जबकि रवींद्र जडेजा सबसे पीछे डांस करते दिख रहे हैं. इसके अलावा ब्रावो, शार्दुल जैसे बाकी खिलाड़ी धोनी के साथ बीच में झूमते दिखाई दे रहे हैं.

दरअसल, ये पूरा ताम-झाम चेन्नई सुपरकिंग्स की तैयारियों का हिस्सा है. पीली जर्सी वाली ये टीम ना सिर्फ मैदान पर गेंद और बल्ले से विरोधी को मात देने का अभ्यास कर रही है बल्कि उन्हें धूल चटाते हुए चैम्पियन बनने पर भी इसका पूरा जोर है.

धोनी पर चढ़ा 'पीले रंग' का बुखार , 'Whistle Podu' जीत के लिए कर रहे हैं दनादन वार

धोनी पर चढ़ा 'पीले रंग' का बुखार , 'Whistle Podu' जीत के लिए कर रहे हैं दनादन वार

जब सुपरकिंग्स बने चैम्पियन

IPL में सुपरकिंग्स ने अब तक दो बार चैम्पियन का ताज पहना है. ये खिताब उसे साल 2010 और 2011 में धोनी की ही कप्तानी में मिल चुका है. दूसरे लहजे में कहें तो अब तक 10 में से जिन 8 मौकों पर पीली जर्सी वाले सुपरकिंग्स ने आईपीएल खेला है उनमें 2 बार ये विजेता बनकर उभरे हैं.

दो साल के बैन की वजह से ये टीम IPL के दो सीजन में शिरकत नहीं कर पाई थी. ऐसे में बैन हटने के बाद इस बार वो अपनी जबरदस्त वापसी की उम्मीद लगाए हुई है. और, इस उम्मीद को खिताबी रंग देने के लिए वो हर संभव कोशिश और अभ्यास भी कर रही है.

बहरहाल, खेल वही है, खिलाड़ी भी हैं और सबसे बड़ी बात ये कि कप्तान भी वही है, जिसने अपनी करिश्माई कप्तानी से इस टीम हर बार खिताबी जीत का दावेदार बनाए रखा है. इस बार भी चेन्नई सुपरकिंग्स खिताबी जीत की प्रबल दावेदार है. अपने खिताबी जश्न का ड्रेस रिहर्सल तो उसने दिखा दिया है. अब देखना ये है कि अपनी धमाकेदार तैयारियों से ये टीम मैदान पर कैसा जोर दिखलाती है.