नई दिल्ली. IPL का अखाड़ा तैयार है. अब बस इंतजार है तो मुकाबले का. सीजन-11 का पहला मुकाबला मुंबई और चेन्नई के बीच वानखेड़े मैदान पर खेला जाएगा. इस मुकाबले के लिए दोनों टीमों की तैयारियां जोरो शोरो पर है. ऐसा इसलिए भी क्योंकि दोनों ही टीमों का इरादा सीजन की शुरुआत जीत के साथ करने का है. रोहित शर्मा की कमान वाली मुंबई की टीम जहां IPL की डिफेंडिंग चैम्पियन है वहीं पीले रंग में रंगी महेन्द्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली चेन्नई की टीम दो साल के बैन के बाद IPL की पिच पर फिर से कदम रखने जा रही है. यानी, देखा जाए तो दोनों ही टीमों के बीच ये एक दमदार और दिलचस्प मुकाबला हो सकता है. ऐसे में दोनों टीमें इसे जीतने के नए-नए पैंतरे भी आजमाती दिख रही है.खासकर, चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने जो प्लान मुंबई इंडियंस के लिए बनाया है, वो थोड़ा हटकर है. अपने इस मास्टर प्लान के सेंटर में धोनी ने टीम से ज्यादा खुद को रखा है. सुपरकिंग्स का ये पूरा प्लान 30 सेकेंड के वीडियो में कैद हुआ है.

‘ड्रिबलिंग’ से निकालेंगे इंडियंस का दम

मुंबई के खिलाफ जीत के लिए माही के मास्टर प्लान का ये पूरा वीडियो वानखेड़े में अभ्यास के दौरान कैमरे में कैद हुआ. माही का ये मास्टर प्लान ड्रिबलिंग के जरिए इंडियंस का दम उन्हीं के घर में तोड़ने का है.

 

इस वीडियो में चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को आप ड्रिबलिंग के बेहतरीन मूव्स करते देख सकते हैं. कभी वो फुटबॉल को अपने पांव से ड्रिबल कर रहे हैं तो कभी सिर से ड्रिबल करते नजर आ रहे हैं. दरअसल, इसी ड्रिबलिंग में छिपा है माही का मास्टर प्लान. ड्रिबलिंग के जरिए माही मुंबई के खिलाफ होने वाले IPL-11 के बड़े मुकाबले से पहले खुद को तैयार कर रहे हैं. ऐसा कर वो अपना कॉन्सनट्रेशन लेवल बढ़ा रहे हैं ताकि इसका फायदा उन्हें विकेट के आगे बल्लेबाजी में मिले और जब विकेट के पीछे हों तो कीपिंग में मिले. साफ है कि 2 साल के बैन के बाद वापसी कर रही चेन्नई सुपरकिंग्स को फिर से चैम्पियन बनाने का धोनी कोई मौका चूकना नहीं चाहते. यही वजह है कि उन्होंने मास्टर प्लान के तौर पर ड्रिबलिंग को चुना है.

IPL से पहले रबाडा की इंजरी ने दूर की दिल्ली डेयरडेविल्स की ये टेंशन !

IPL से पहले रबाडा की इंजरी ने दूर की दिल्ली डेयरडेविल्स की ये टेंशन !

क्रिकेटर से पहले फुटबॉलर ही थे धोनी

वैसे भी ये तो सब जानते हैं कि धोनी का पहला प्रेम फुटबॉल ही है. क्रिकेट में कदम रखने से पहले वो अपने स्कूल की फुटबॉल टीम के गोलकीपर थे और इसी वजह से उनकी ड्रिबलिंग भी इतनी जबरदस्त है. अब बस देखना ये है कि धोनी के इस ड्रिबलिंग वाले मास्टर प्लान का कितना असर मुंबई के खिलाफ मैदान पर दिखता है.