नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान गौतम गंभीर ने गुरुवार को कहा कि लीग का 11वां संस्करण उनके लिए आखिरी होगा. उन्‍होंने आगे बताया कि उनकी पूरी कोशिश होगी कि वह अपने घरेलू टीम को चैंपियन बनाने के बाद ही इसे अलविदा कहें. गंभीर आईपीएल के पहले तीन सीजन में दिल्ली के कप्तान थे. इसके बाद उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स का दामन थाम लिया था. गंभीर अपनी कप्तानी में कोलकाता को दो बार चैंपियन भी बना चुके हैं, लेकिन अब उन्होंने एक बार फिर से दिल्ली की कप्तानी संभाली है और उनकी कोशिश होगी कि वह दिल्ली को पहला आईपीएल खिताब दिलाएं.

गंभीर ने गुरुवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा,” मेरी पूरी कोशिश होगी कि जहां से मैंने आईपीएल शुरू किया था, वहीं से इसे खत्म करूं, लेकिन खिताबी जीत के साथ. दिल्ली की टीम में इस बार काफी अच्छे खिलाड़ियों को शामिल किया गया है.”

उन्होंने साथ ही कहा,” टीम के पास इस बार आस्ट्रेलिया को दो बार विश्व कप दिलाने वाले पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के रूप में बेहद अनुभवी और आक्रामक कोच भी हैं. निश्चित रूप से इससे टीम को काफी फायदा होगा. टीम के सभी खिलाड़ी इस बार कुछ नया करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.”

यह पूछे जाने पर कि कोलकाता को दो बार चैंपियन बनाने के बाद दिल्ली भी उनकी कप्तानी में चैंपियन बनेगी, गंभीर ने कहा ,” कोई भी टीम खिताब तभी जीतती है जब टीम के सभी सदस्य अपना सामूहिक योगदान देते हैं. टीम को चैंपियन बनाने में कप्तान का कम, खिलाड़ियों का ज्यादा योगदान होता है. दिल्ली में भी कोलकाता की तरह ही काफी अच्छे खिलाड़ी हैं, बस उन्हें सही समय पर सही प्रदर्शन करने की जरूरत है.”