चंडीगढ़: राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले हरियाणा के खिलाड़ियों को राज्य सरकार ने डेढ़ करोड़ रूपये पुरस्कार राशि देने की रविवार को यहां घोषणा की. हरियाणा के खेलमंत्री अनिल विज ने यह घोषणा करते हुए राज्य के 22 पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी जिसमें नौ स्वर्ण, छह रजत और सात कांस्य पदक विजेता है. रजत पदक विजेताओं को 75 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं को 50 लाख रूपये का ईनाम दिया जाएगा. निशानेबाजी में भारत के नयी सनसनी अनीश भानवाल (15) और मनु भाकर (16) भी हरियाणा से आते है.

खेलमंत्री अनिल विज ने कहा , ‘यह बड़ी उपलब्धि है, उन्होंने देश और राज्य को गौरवान्वित किया है. राष्ट्रमंडल खेलों में हरियाणा के 38 खिलाड़ियों ने देश का प्रतिनिधित्व किया था. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हर स्वर्ण पदक विजेता को श्रेणी ए, रजत पदक विजेता को श्रेणी बी और कांस्य पदक विजेता को श्रेणी सी वर्ग में नौकरी देगी.

फोगाट बहनों ने हरियाणा का नाम किया रोशन.

हरियाणा के फोगाट बहनों ने भी कॉमनवेल्थ गेम में एक गोल्ड और एक सिल्वर मेडल जीतकर परिवार का सिर गर्व से फिर ऊंचा कर दिया है. शनिवार को विनेश ने देश का नाम रोशन करते हुए अपनी झोली में एक गोल्ड मेडल हासिल की. इससे पहले बबीता फोगाट ने भी सिल्वर मेडल जीता था.

ये भी पढ़ें. CWG 2018: 66 मेडल के साथ सफर खत्म, तीसरे नंबर पर रहा भारत

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने शानदार प्रदर्शन किया. इस बार भारत ने कुल 66 मेडल जीते. इसमें 26 गोल्ड शामिल है. इसके अलावा भारत ने 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल जीते. गोल्ड कोस्ट में भारतीय दल ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बाद तीसरे पायदान पर रहा. हालांकि 2010 में भारत ने दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों में 101 पदक जीते थे. वहीं 2002 के मैनचेस्टर खेलों में उसे कुल 69 मेडल मिले थे. (इनपुट-भाषा)