कैंडी।
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने साफ किया है कि उन्हें श्रीलंका के खिलाफ आगामी वनडे सीरीज खेलने में कोई दिक्कत नहीं है जबकि कयास लगाये जा रहे हैं कि लंबे सत्र को ध्यान में रखते हुए उन्हें विश्राम दिया जा सकता है. कोहली से जब टीम चयन को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ‘किसने कहा कि मैं नहीं खेल रहा हूं. मुझे नहीं पता कि यह बात किसने फैलाई लेकिन मुझे खेलने में कोई परेशानी नहीं है.’ भारतीय टीम का चयन 13 अगस्त को किया जाएगा. सीनियर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा के अलावा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को विश्राम दिए जाने की संभावना है.

कोहली ने कहा, ‘हम (टीम प्रबंधन और चयनकर्ता) जल्द ही चयन को लेकर बैठक करेंगे और निश्चित तौर पर हमारे दिमाग में कुछ योजनाएं और संयोजन हैं जिस पर हम बात करना चाहते हैं. कप्तान होने के नाते मैं जानता हूं कि मुझे समिति में क्या बात करनी है.’ सीरीज जीतने के बावजूद कोहली ने महज औपचारिकता के मैच के लिए टीम में काफी सारे बदलाव करने की संभावना से इनकार किया. भारत ने गॉल और कोलंबो में पहले दो मैच आसानी से जीते और अब उसके पास विदेशी सरजमीं पर 3-0 की जीत दर्ज करने का बेहतरीन मौका है.

कोहली ने कहा, ‘लगातार अच्छा क्रिकेट खेलने के लिए आपको सुनिश्चित करने की जरूरत है कि खिलाड़ी नियमित तौर पर खेलें. जो अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हें टीम में रहना चाहिए और अधिक मैच खेलने चाहिए और लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम बनने के लिए निरंतता होनी चाहिए, उन स्थितियों को छोड़कर जहां चीजें हमारे नियंत्रण में नहीं हों.’ कोहली ने इन सुझावों को खारिज किया कि यह उन खिलाड़ियों को हतोत्साहित कर सकता है जिन्हें अब तक खेलने का मौका नहीं मिला है.

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘जिन्हें खेलने का मौका नहीं मिलता उनका प्रबंधन भी कौशल है. यह आसान नहीं है क्योंकि सभी खेलना चाहते हैं और भाग्य से हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं तो मौके का इंतजार कर रहे हैं. हमारे पास ऐसे खिलाड़ी नहीं है जो बाहर बैठकर खुश हैं.’ उन्होंने कहा, ‘टीम में सभी को पता है कि सिर्फ 11 खिलाड़ी खेल सकते हैं. इसलिए पेशेवर खेल में वे इस पहलू को समझते हैं. वे समझदार हैं इसलिए आपको इस तरह के काफी सवालों का सामना नहीं करना पड़ता.’ कोहली ने अब तक पिच नहीं देखी है लेकिन उन्होंने कहा कि यह चिंता की बात नहीं है.

जडेजा के निलंबन के कारण बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल को टीम में शामिल किया गया है लेकिन अंतिम एकादश में तीसरे टेस्ट में जडेजा की जगह कुलदीप यादव को मौका मिलने की उम्मीद है. उन्होंने कहा, ‘वह (कुलदीप) अपनी क्षमताओं पर विश्वास करते हैं और अपने कौशल से बल्लेबाजों को छकाना चाहते हैं. मुझे लगता है कि यह उनका सबसे बड़ा गुण है. उन्होंने धर्मशाला में खुद को साबित किया, जो स्पिन के अनुकूल विकेट नहीं था ओर टेस्ट मैच में पहले दो से तीन दिन वह काफी सपाट था. चाइनामैन गेंदबाज टीम में एक्स फैक्टर की तरह होता है. कल उनके पास खेलने का अच्छा मौका है और मैं उन्हें शुभकामना देता हूं.’