क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने कई ऐतिहासिल फैसलों को मंजूरी दी है. इन फैसलों में 2019 के वर्ल्ड कप के बाद 9 टीमों की टेस्ट चैंपियनशिप और 13 टीमों के वनडे लीग के आयोजन को मंजूरी देना और चार दिनों के टेस्ट मैचों के आयोजन को मंजूरी देना शामिल है. हालांकि आईसीसी ने चार दिवसीय टेस्ट मैच को 2019 के वर्ल्ड कप तक ट्रायल के आधार पर आयोजित करने के लिए सदस्य देशों को मंजूरी दी है.

पहला चार दिवसीय टेस्ट दक्षिण अफ्राकी और जिम्बाब्वे के बीच होगा
आईसीसी के मुताबिक इस साल बॉक्सिंग डे के मौके पर दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे के बीच चार दिवसीय का टेस्ट मैच खेला जाएगा. इस टेस्ट मैच का आयोजन 26 दिसंबर से 29 दिसबंर तक किया जाएगा. ये डे-नाइट टेस्ट मैच होगा और इसे गुलाबी गेंद से खेला जाएगा. हालांकि चार दिवसीय टेस्ट को लेकर कई खिलाड़ियों और विशेषज्ञों की आलोचना के बाद आईसीसी ने कहा है कि इस पर प्रयोग किया जाना जरूरी है और इसीलिए 2019 तक इसे ट्रायल के आधार पर आईसीसी के सदस्य देश आयोजित कर सकते हैं. माना जा रहा है कि चार दिन के टेस्ट मैचों में हर दिन साढ़े छह घंटे का खेल होगा और 98 ओवर फेंका जाएगा.

आईसीसी ने दी 9 टीमों की टेस्ट चैंपियनशिप और 13 टीमों की वनडे लीग को मंजूरी

आईसीसी ने दी 9 टीमों की टेस्ट चैंपियनशिप और 13 टीमों की वनडे लीग को मंजूरी

टेस्ट चैंपियनशिप और वनडे लीग को मंजूरी
साथ ही आईसीसी ने लंबे समय से जारी चर्चा के बाद 9 टीमों की टेस्ट चैंपियनशिप को मंजूरी दे दी. 2019 से शुरू हो रही टेस्ट चैंपियनशप में प्रत्येक टीम को दो सालों में 6 सीरीज खेलनी होगी, जिनमें 3 सीरीज घर में और तीन विदेश में होंगी. वहीं 2020 से शुरू हो रही 13 टीमों की वनडे लीग की शुरुआत 2020 से होगी और इससे ही वर्ल्ड कप के लिए क्वॉलिफिकेशन का आधार बनेगा.

साथ ही आईसीसी ने कहा है कि किसी देश के लिए खेलने के लिए खिलाड़ी को कम से कम तीन साल तक उस देश में रहना होगा.