भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज का आईसीसी महिला वर्ल्ड कप जोरदार प्रदर्शन जारी है. शनिवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार शतकीय पारी खेलकर मिताली ने न सिर्फ भारतीय टीम को फाइनल में पहुंचाया बल्कि दो और नए रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए. मिताली ने 123 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 109 रन की शानदार पारी खेली और भारत को 21/2 के मुश्किल स्थिति से उबराते हुए हरमनप्रीत कौर (60) और वेदाकृष्णमूर्ति की शानदार अर्धशतकीय पारियों की बदौलत भारतीय टीम का स्कोर 50 ओवर में 7 विकेट पर 265 तक पहुंचा दिया, जवाब में न्यूजीलैंड की टीम 79 रन पर सिमट गई और भारत ने ये मैच 186 रन के विशाल अंतर से जीतते हुए सेमीफाइनल में जगह बना ली है.

अपने वनडे करियर का छठी शतकीय पारी के दौरान मिताली राज ने दो और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए. मिताली के नाम अब महिला वनडे में संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा बार 50 से ज्यादा का स्कोर बनाने का रिकॉर्ड दर्ज हो गया है. इस शतक के साथ ही मिताली ने वनडे में 55वीं बार 50 से ज्यादा का स्कोर बनाया, वह वनडे में 49 अर्धशतक भी जड़ चुकी हैं. इसके साथ ही उन्होंने वनडे में सबसे ज्यादा बार 50 से ज्यादा का स्कोर बनाने के इंग्लैंड की चार्ली एडवर्ड्स के रिकॉर्ड की बराबरी की, जिन्होंने अपने वनडे करियर में 46 अर्धशतक और 9 शतक समेत कुल 55 बार 50 रन से ज्यादा का स्कोर बनाया.

इतना ही नहीं अपनी शानदार शतकीय पारी के दौरान मिताली राज ने महिला वर्ल्ड कप में अपने 1000 रन भी पूरे किए. उन्होंने ये उपलब्धि अपने पांचवें वर्ल्ड कप और 29वें मैच में हासिल की. वह ये कारनामा करने वाली पांचवीं बल्लेबाज बन गईं, उनसे पहले न्यूजीलैंड की डेबी हेकले (1501), इंग्लैंड की जेनेट ब्रिटिन (1299), और चार्ली एडवर्ड्स (1231) और आस्ट्रेलिया की बेलिंडा क्लार्क (1151) ये उपलब्धि हासिल कर चुकी हैं.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिछले मैच में मिताली राज महिला वनडे में 6000 रन पूरे करने वाली पहली बल्लेबाज बनी थीं.