नई दिल्ली, पोर्ट एलिजाबेथ में जीत के साथ ही विराट एंड कंपनी ने साउथ अफ्रीका में पहली वनडे सीरीज जीत का सूखा भी खत्म कर दिया है. 6 वनडे मैचों की सीरीज में 4-1 की बढ़त के साथ भारत ने सीरीज अपने नाम कर ली है. भारतीय क्रिकेट के इतिहास में ये पहला मौका है जब साउथ अफ्रीका में वनडे सीरीज जीत की इबारत लिखी गई है.

पांच कप्तानों की अगुवाई में टीम इंडिया ने इससे पहले साउथ अफ्रीका के 6 दौरे किए. इन दौरों पर भारतीय टीम ने कुछ वनडे तो जीते लेकिन सीरीज अपने नाम नहीं कर सके.

पिछले दौरों पर मिली नाकामी

अजहर की कप्तानी में 1992 के साउथ अफ्रीका दौरे पर भारत को 7 वनडे की सीरीज में 2-5 से हार का सामना करना पड़ा. साल 1997 में सचिन की अगुवाई में साउथ अफ्रीका का दौरा करने वाली भारतीय टीम को 5 वनडे मैचों की सीरीज 0-4 से गंवानी पड़ी. 2003 में गांगुली की कप्तानी में भारत को साउथ अफ्रीका दौरे पर 4 वनडे मैचों की सीरीज में 1-3 से हार मिली. साल 2004 में साउथ अफ्रीका दौरे पर द्रविड़ की टीम इंडिया को वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप का मुंह देखना पड़ा. साल 2011 में धोनी की अगुवाई में भारत अफ्रीकी धरती पर 5 वनडे की सीरीज 2-3 से हारा, जबकि 2013 में धोनी की ही कमान में भारत को 3 वनडे की सीरीज में साउथ अफ्रीकी धरती पर 0-2 से शिकस्त झेलनी पड़ी.

रोहित शर्मा और 13 तारीख का शुभ संयोग !

रोहित शर्मा और 13 तारीख का शुभ संयोग !

विराट की कप्तानी में भारत का डंका

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज जीतकर विराट एंड कंपनी ने प्रोटियाज सरजमीं पर भारतीय क्रिकेट की नई इबारत लिखी है. ये साउथ अफ्रीका में भारत की पहली वनडे सीरीज जीत होने के अलावा विराट की कप्तानी में मिली 9वीं वनडे सीरीज जीत है. विराट की कप्तानी में ये भारत की आठवीं बाइलेट्रल वनडे सीरीज जीत है. वहीं विदेशी धरती पर ये चौथी बाइलेट्रल वनडे सीरीज जीत है. इससे पहले विराट की कमान में टीम इंडिया जिम्बाब्वे, वेस्टइंडीज और श्रीलंका में वनडे सीरीज अपने नाम कर चुका है.

बता दें कि साउथ अफ्रीका में मिली पहली वनडे सीरीज जीत विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को मिली 21वीं इंटरनेशनल सीरीज जीत है.