भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 17 सितंबर से शुरू हो रही पांच वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए दोनों देशों के फैंस के बीच जबर्दस्त उत्साह है. ऑस्ट्रेलियाई टीम ने इससे पहले आखिरी बार 2013 में भारत का दौरा किया था और तब भारत के खिलाफ 7 वनडे मैचों की सीरीज में उसे 3-2 से हार मिली थी. लेकिन 2016 में भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर ऑस्ट्रेलिया ने 5 वनडे मैचों की सीरीज में भारत को 4-1 से हराया था. ये दोनों क्रिकेट के जिस भी फॉर्मेट में भिड़े लोगों की नजरें उन पर रहती जरूर है. भारत-ऑस्ट्रेलिया वनडे सीरीज का पहला मैच 17 सितंबर को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाएगा. आइए एक नजर डालें टीम इंडिया के उन पांच खिलाड़ियों पर, जिन पर इस सीरीज में सबकी निगाहें रहेंगी.

रोहित शर्माः चोट के वापसी के बाद से रोहित शर्मा जोरदार फॉर्म में रहे हैं. पहले चैंपियंस ट्रॉफी और फिर श्रीलंका के खिलाफ हाल ही में खत्म हुई वनडे सीरीज में रोहित ने दिखाया कि क्यों उन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार किया जाता है. श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में रोहित ने 2 शतक और एक अर्धशतक जड़ते हुए अपनी जोरदार फॉर्म का सबूत किया. 2013 में ऑस्ट्रेलियाई टीम जब भारत के दौरे पर आई थी तो रोहित ने अपनी बैटिंग से कोहराम मचा दिया था. सीरीज के सातवें वनडे में तो रोहित ने 152 गेंदों में 12 चौकों और 16 छक्कों की मदद से 209 रन की धमाकेदार पारी खेली थी. अगर रोहित ने इस सीरीज में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐसी ही बैटिंग की तो कंगारुओं का काम तमाम समझिए!

रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में दो शतक ठोके (Getty)
रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में दो शतक ठोके (Getty)

 

विराट कोहलीः दुनिया में टीम इंडिया कहीं भी खेले कोहली के बिना हर मैच की चर्चा अधूरी रहेगी. वह निर्विवाद रूप से छोटे फॉर्मेट में इस समय दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं. वनडे में 30 शतक जड़ चुके कोहली के पास इस सीरीज में रिकी पॉन्टिंग को पीछे छोड़कर दुनिया में सबसे ज्यादा वनडे शतक जड़ने वाला बल्लेबाज बन जाने का मौका रहेगा. अभी वह इस मामले में पॉन्टिंग की बराबरी पर हैं और उनसे आगे सिर्फ सचिन तेंदुलकर (49 शतक) हैं. इस साल कोहली वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. श्रीलंका के खिलाफ तो उनका बल्ला जमकर बोला अब देखना होगा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम भारतीय टीम की इस आंधी को कैसे रोक पाती है!

कोहली वनडे में अब तक 30 शतक जड़ चुके हैं (Getty)
कोहली वनडे में अब तक 30 शतक जड़ चुके हैं (Getty)

 

एमएस धोनीः श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले धोनी की टीम में जगह को लेकर भी सवाल उठ रहे थे. लेकिन इस सीरीज ने 2019 वर्ल्ड कप के लिए धोनी की जगह लगभग पक्की कर दी. श्रीलंका के खिलाफ 5 में से जिन 4 मैचों में धोनी बल्लेबाजी के लिए उतरे उसमें एक बार भी वह आउट नहीं हुए. यही नहीं विकेटों के पीछे भी उन्होंने 100 स्टम्पिंग पूरी करते हुए इतिहास रचा और ऐसा करने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बन गए. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज कोच शास्त्री द्वारा धोनी को लेकर 2019 वर्ल्ड कप के लिए जताए गए भरोसे को और मजबूती देगी. धोनी वनडे में अब तक 9658 रन बना चुके हैं और उनके पास इस सीरीज में 10 हजार रन पूरा करने वाला चौथा भारतीय बल्लेबाज (सचिन, सौरव, द्रविड़) बनने का मौका रहेगा. निश्चित तौर पर कंगारुओं के लिए धोनी विकेट के आगे और पीछे दोनों ही जगह परेशानी का सबब बनेंगे!

श्रीलंका के खिलाफ धोनी  शानदार फॉर्म में रहे (Getty)
श्रीलंका के खिलाफ धोनी शानदार फॉर्म में रहे (Getty)

 

मनीष पाण्डेयः इस युवा बल्लेबाज ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर 2016 में खेली गई वनडे सीरीज के आखिरी मैच में क्या लाजवाब शतक ठोका था. भारत उस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया से लगातार चार वनडे हार चुका था और पांचवें वनडे में 331 का लक्ष्य मिलने के बाद भारत के ऊपर क्लीन स्वीर का खतरा मंडरा रहा था. लेकिन रोहित की 99 रन की पारी के बाद जब भारतीय टीम लक्ष्य से भटकने लगी तो मनीष पाण्डेय ने ही 81 गेंदों में 8 चौकों और 1 छक्के की मदद से 104 रन की जोरदार पारी खेलते हुए भारत को 6 विकेट से जोरदार जीत दिला दी, जो उस सीरीज में भारत की एकमात्र जीत थी. पाण्डेय ने श्रीलंका के खिलाफ मिले मौकों का फायदा उठाया और दो शानदार अर्धशतक लगाए. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनके पास अपनी प्रतिभा दिखाने और टीम में अपनी जगह पक्की करने का मौका रहेगा.

मनीष पाण्डेय के पास ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी प्रतिभा साबित करने का मौका रहेगा (Getty)
मनीष पाण्डेय के पास ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी प्रतिभा साबित करने का मौका रहेगा (Getty)

 

हार्दिक पंड्याः उन्हें भविष्य का कपिल देव कहा जा रहा है. उनके पास इस सीरीज में अपने ऊपर जताए जा रहे इस भरोसे को और पुख्ता करने का मौका रहेगा. श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट हो या वनडे सीरीज, उन्होंने बैट और गेंद दोनों से प्रभावित किया है. वह 2019 के वर्ल्ड कप में एक ऑलराउंडर के तौर पर टीम इंडिया का ट्रंप कार्ड साबित हो सकते हैं. उनके पास जोरदार छक्के जड़ने के साथ ही बड़ी पारियां खेलने का भी माद्दा है. हार्दिक पंड्या ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में अपनी ऑलराउंड क्षमता के बल पर तहलका मचा सकते हैं.

हार्दिक पंड्या टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर बनकर उभरे हैं (Getty)
हार्दिक पंड्या टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर बनकर उभरे हैं (Getty)

 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज 17 सितंबर से शुरू होकर 1 अक्टूबर तक चलेगी और इसके बाद 7 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक तीन टी20 मैचों की सीरीज खेली जाएगी.