नई दिल्ली: भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम ने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के पाचवें दिन सोमवार को नाइजीरिया को हराकर गोल्ड मेडल जीत लिया. ओक्सेनफोर्ड स्टूडियोज में खेल गए फाइनल में भारत ने नाइजीरिया को 3-0 से मात दी. फाइनल का पहला मैच एकल वर्ग का था जहां अनुभवी खिलाड़ी अचंता शरथ कमल ने पहला गेम 4-11 से हारने के बाद वापसी करते हुए बोडे अमियोडून को अगले तीन गेम में 11-5, 11-4 और 11-9 से हराकर भारत को 1-0 से आगे कर दिया.

कॉमनवेल्थ गेम्स : जीतू के गोल्ड के बाद शूटर मेहुली घोष को सिल्वर, भारत के खाते में अब तक 17 मेडल

दूसरे एकल मुकाबले में भारत के साथियान गणासेकरन को भी पहले गेम में 10-12 से हार का सामना करना पड़ा लेकिन उन्होंने भी मैच में शानदार वापसी की और अगले तीन गेम में 11-3, 11-3, 11-4 से जीत दर्ज कर भारत की बढ़त को दोगुना कर दिया. इसके बाद, तीसरा मैच युगल वर्ग का था जिसमें हरमीत देसाई और साथियान गणासेकरन ने नाइजीरिया की ओलाजीडे ओमोटायो और बोडे अमियोडून की जोड़ी को 11-8, 11-5, 11-3 से हरा दिया. भारत का यह 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में नौवां गोल्ड मेडल है.

वेटलिफ्टिंग के बाद एयर पिस्टल में कामयाबी, जीतू राय ने सोना तो मिर्थावल ने जीता कांस्य

बता दें कि इससे पहले भारत के लिए मनु भाकर, सतीष कुमार सिवलिंगम, वेंकट राहुल, मीराबाई चानू, पूनम यादव, जीतू राय, और संजीता चानू भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत चुके हैं. इसके अलावा टेबल टेनिस की महिला टीम ने भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया है. गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के पास अब कुल 18 मेडल हो गए हैं. इनमें 9 के गोल्ड के अलावा 4 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज मेडल भी शामिल हैं. इस तरह भारत मेडल लिस्ट में नंबर 3 पर पहुंच गया है.