नई दिल्ली: भारतीय महिला टेबल टेनिस टीम ने गोल्ड कोस्ट में जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के चौथे दिन रविवार को सिंगापुर को हराकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया. इस खेलों में भारत का यह सातवां गोल्ड मेडल है. ओक्सेनफोर्ड स्टूडियोज में खेल गए फाइनल में भारत ने सिंगापुर को 3-1 से मात दी. फाइनल का पहला मैच एकल वर्ग का था जहां मनिका बत्रा ने तियानवेई फेंग को 11-8, 8-11, 7-11, 11-9, 11-7 से मात देकर भारत को 1-0 से आगे कर दिया.

गोल्डन संडे: मनु ने भारत को दिलाया छठा गोल्ड, हिना ने सिल्वर

दूसरे एकल मुकाबले में भारत की मधुरिका पाटकर मेंगयू यू ने 13-11, 11-2, 11-6 से मात देकर मुकाबला 1-1 से बराबरी पर ला दिया. इसके बाद तीसरा मैच युगल वर्ग का था जिसमें मौमा दास और मधुरिका की जोड़ी ने यिहान झू और मेंगयू की जोड़ी को 11-7, 11-6, 8-11, 11-7 से मात दे एक बार फिर भारत को बढ़त दिला दी.अगला मुकाबला भी एकल वर्ग का था जिसमें मनिका ने यिहान झू को 11-7, 11-4, 11-7 से मात दे भारत की झोली में गोल्ड मेडल डाला.

CWG 2018: भारत की पूनम यादव ने वेटलिफ्टिंग में दिलाया 5वां गोल्ड

बता दें कि इससे पहले मनु भाकर, सतीष कुमार सिवलिंगम, वेंकट राहुल, मीराबाई चानू, पूनम यादव, और संजीता चानू भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत चुके हैं. भारत को सातवां गोल्ड मेडल टेनिस में मिला है. इसके अलावा भारत को 2 सिल्वर मेडल और 3 ब्रॉन्ज मेडल भी मिले हैं. लिहाजा अब भारत के पास कुल 12 मेडल हो गए हैं. इससे वह मेडल हासिल करने की लिस्ट में चौथे स्थान पर पहुंच गया है. इससे पहले कनाडा 32 मेडल्स के साथ तीसरे स्थान पर है. वहीं इंग्लैंड दूसरे और ऑस्ट्रेलिया पहले स्थान पर काबिज है. ऑस्ट्रेलिया के पास कुल 84 मेडल्स हैं. वहीं इंग्लैंड के पास अब तक 47 मेडल्स हैं.