मुंबई इंडियंस के स्पिनर कर्ण शर्मा ने शुक्रवार को एलिमिनेटर में कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ अपनी घातक गेंदबाजी से कोलकाता को मुश्किल में डाल दिया. कर्ण शर्मा ने अपने 4 ओवर में महज 16 रन देते हुए 4 विकेट झटक लिए. कर्ण की खतरनाक गेंदबाजी के आगे कोलकाता की टीम 18.5 ओवरों में 107 रन बनाकर ऑल आउट हो गई.

कर्ण शर्मा के अलावा मुंबई के लिए जसप्रीत बुमराह ने 3 ओवर में 7 रन देकर 3 विकेट और मिशेल जॉनसन ने 4 ओवर में 28 रन देकर 2 विकेट लिए. कोलकाता के लिए सूर्यकुमार यादव ने 25 गेंदों में 2 चौके और 1 छक्के की मदद से 31 रन और इशांक जग्गी ने 31 गेंदों में 3 चौकों की मदद से 28 रन बनाए.

कर्ण की घातक गेंदबाजी ने टॉस हारकर पहले बैटिंग के लिए उतरी कोलकाता की बैटिंग की कमर तोड़ दी और एक समय उसकी आधी टीम सिर्फ 31 रन के स्कोर पर ही पविलियन लौट गई थी. (IPL 2017: मुंबई के खिलाफ लड़खड़ाई कोलकाता की पारी, बनाया इस सीजन का सबसे खराब रिकॉर्ड)

जसप्रीत बुमराह ने 3 ओवर में 7 रन देकर 3 विकेट झटके (bcci)
जसप्रीत बुमराह ने 3 ओवर में 7 रन देकर 3 विकेट झटके (bcci)

 

कर्ण शर्मा ने कोलकाता को लगातार झटके दिए और अपने पहले ही ओवर में सुनील नारायण (10) को आउट किया जबकि अगले ओवर में लगातार दो गेंदों पर कप्तान गंभीर (12) और ग्रैंडहोम (0) को पविलियन की राह दिखाई.

ये आईपीएल में कर्ण शर्मा का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है. 31 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद छठे विकेट के लिए सूर्यकुमार यादव और इशांक जग्गी ने 7.5 ओवरों में 56 रन की साझेदारी करते हुए कोलकाता को मुश्किल से उबारने की कोशिश करते हुए स्कोर 87 तक पहुंचा दिया था. (IPL 2017: 6 साल में सिर्फ दूसरी बाहर यूसुफ पठान के बिना खेल रही है कोलकाता नाइटराइडर्स)

लेकिन इससे पहले कि ये दोनों कोलकाता को और सुरक्षित कर पाते कर्ण शर्मा ने अपने स्पैल के आखिरी ओवर में इशांक जग्गी (31 गेंदों पर 28 रन) को आउट करके कोलकाता को 87 के स्कोर पर छठवां झटका दिया और अपना चौथा विकेट झटका.