मुंबई: वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो और कीरोन पोलार्ड इंडियन प्रीमियर लीग के सत्र के पहले मैच में व्यक्तिगत उपलब्धियों का जश्न मनाते हुए जर्सी पर एक समान 400 नंबर के साथ उतरे. ब्रावो चेन्नई की ओर से खेलते है तो वही पोलार्ड मुंबई के अहम सदस्य है. मैच में 30 गेंद में 68 बनाकर टीम की जीत सुनिश्चित करने वाले ब्रावो ने कहा पोलार्ड 400 टी 20 मैच खेलने वाले पहले खिलाड़ी है और मैं 400 विकेट लेने वाला पहला गेंदबाज हूं. इसलिए हमने सोचा कि अगर दोनों को पहले मैच में खेलने का मौका मिलता है तो हम कुछ अलग करेंगे.

उन्होंने कहा कि हम दोनों के लिए निजी तौर पर यह बड़ी उपलब्धि हैं. पोलार्ड ने मुंबई  और मैंने चेन्नई से इसके लिए बात की जिस पर वे राजी हो गए. अगले मैच से हम दोनों अपने नियमित जर्सी नंबर क्रमश : 47 और 55 के साथ दिखेंगे.

ब्रावो के सात छक्के और तीन चौके की आतिशि पारी ने मैच का पासा पलट दिया. इस दौरान मुंबई के गेंदबाजों ने आखिरी तीन ओवर में 50 रन लुटाए. उन्होंने कहा कि वह चोट से वापसी कर रहे है और ऐसे में यह जरूरी था कि वह अपनी शरीर का ख्याल रखे.

उन्होंने कहा कि हां , मेरे दिमाग में यह था कि अब मैं 24 साल का नहीं हूं , जैसा पहले हुआ करता था इसलिए मुझे ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है इसलिए मैंने धीमी शुरूआत की. खेल में बने रहने के लिए लय को बरकरार रखने की जरूरत थी.

गौरतलब है कि दो साल बाद वापसी कर रही चेन्नई ने इंडियन टी-20 लीग के 11वें संस्करण का आगाज जीत के साथ किया है. उसने शनिवार को वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए सीजन के पहले मैच में मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस को रोमांचक मुकाबले में एक विकेट से हरा दिया. मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई के सामने 166 रनों का लक्ष्य रखा था. दो बार की पूर्व विजेता चेन्नई ने ड्वेन ब्रावो की 30 गेंदों में तीन चौके और सात छक्कों की पारी के अलावा चोटिल केदार जाधव की नाबाद 24 रनों की पारी के दम पर एक गेंद शेष रहते हुए लक्ष्य हासिल कर लिया.