नई दिल्ली. IPL की फ्रेंचाईजी सनराइजर्स हैदराबाद ने अपने नए कप्तान का ऐलान कर दिया है. इंडियन प्रीमियर लीग के ग्यारहवें सीजन में उसने इस जिम्मेदारी को केन विलियम्सन को सौंपा हैं. फ्रेंचाईजी ने केन विलियम्सन को कप्तान बनाने का फैसला कप्तानी में उनके अनुभव को देखते हुए लिया है. इंटरनेशनल क्रिकेट में केन विलियम्सन न्यूजीलैंड टीम के कप्तान हैं और उनकी कप्तानी कीवी टीम का प्रदर्शन शानदार रहा है. केन विलियम्सन को कप्तान बनाए जाने की खबर सनराइजर्स हैदराबाद ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए दी.

 

विलियम्सन को डेविड वॉर्नर की जगह पर टीम का कप्तान बनाया गया है. बॉल टेंपरिंग कांड में फंसने के बाद डेविड वॉर्नर ने सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी छोड़ दी थी. केपटाउन टेस्ट में हुए बॉल टेंपरिंग के असली गुनाहगार डेविड वॉर्नर पर सबसे पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने 12 महीने का बैन लगाया. उसके बाद BCCI ने भी इनके आईपीएल-11 में खेलने पर बैन लगा दिया. जिसके बाद अब उसने अपने नए कप्तान का ऐलान किया है.

केन कप्तान तो भुवी उप-कप्तान

विलियम्सन को कप्तान बनाए जाने के अलावा सनराइजर्स हैदराबाद ने भुवनेश्वर कुमार को टीम का उप-कप्तान चुना है. भुवी को उपकप्तान बनाए जाने की खबर भी फ्रेंजाईजी ने सोशल मीडिया के जरिए दी.

Our leadership has another update for you. #OrangeArmy #LiveOrange

A post shared by SunRisers Hyderabad (@sunrisershyd) on

सनराइजर्स के साथ वॉर्नर का सफर

बतौर कप्तान डेविड वॉर्नर के लिए सनराइजर्स हैदराबाद का साथ बेहतरीन रहा था.  वॉर्नर की कप्तानी में सनराइजर्स साल 2016 का IPL खिताब भी दिला चुके थे. IPL 2016 में वॉर्नर ने 17 मैचों में 848 रन बनाए थे. जिसमें 9 अर्धशतक भी शामिल थे. पिछले सीजन में भी वॉर्नर ने 58.27 की औसत से 641 रन बनाए थे, जिसमें एक शतक और 4 अर्धशतक भी शामिल थे.

T20 की इंटरनेशनल पिच पर केन

केन ने अब तक न्यूजीलैंड के लिए 33  इंटरनेशनल T20 मैचों में कप्तानी की है, जिसमें उन्होंने 17 मैच जीते हैं.  T20 की इंटरनेशनल पिच पर इन 33 मैचों में उन्होंने 894 रन बनाए हैं. इसके अलावा केन का हालिया फॉर्म भी इंटरनेशनल क्रिकेट में शानदार है. इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे मौजूदा टेस्ट सीरीज में उन्होंने अपने करियर का 18वां टेस्ट शतक जड़ा और ये कमाल करने वाले पहले कीवी क्रिकेटर बने.

IPL में काम आएगी इंटरनेशनल कप्तानी

इंटरनेशनल क्रीज की तरह आईपीएल की पिच पर केन को कप्तानी का अनुभव तो नहीं ही है साथ ही ज्यादा मैच खेलने का तकाजा भी उन्हेें नहीं है. आईपीएल में केन ने अब तक सिर्फ  15 मैच खेले हैं और करीब 130 की स्ट्राइक रेट से 411 रन बनाए हैं. देखा जाए तो ये आंकड़े बुरे नहीं है. जिस तरह के फॉर्म में केन इन दिनों हैं वो आईपीएल में बल्लेबाजी को में अपनी छाप छोड़ेंगे ही लेकिन डेविड वॉर्नर की जगह भरने के लिए उन्हें इंटरनेशनल लेवल पर की गई कप्तानी का ही सहारा लेना पड़ेगा.